नैनीताल में भी पूरे जोश के साथ तृतीय अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस में हुआ योगाभ्यास

तृतीय अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर मल्लीताल फ्लैट्स में प्रातः 7.00 बजे से 8.00 बजे तक लगभग 1200 सौ लोगों ने योगाभ्यास किया.नैनीताल में योग दिवस पर आयोजित योग कार्यक्रम में आर्ट आॅफ लिविंग के सदस्यों द्वारा एक घंटे योगाभ्यास कराया गया, जिसमें अनुलोम विलोग, नटराज आसन, ताड़ आसन,त्रिकोण आसन, भुजंग आसन के साथ ही प्राणायाम कराये गये तथा कराये गये योगासनों के फायदे भी बताये गये.

योग कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये प्रभारी जिलाधिकारी प्रकाश चन्द्र ने सभी का स्वागत करते हुये कहा कि मन और शरीर के संबंधों की परतें खोलने वाली योग विद्या बहुत प्राचीन विद्या है. योग से शारीरिक एवं मानसिक क्रियाओं का स्वस्थ संचालन होता है. उन्होंने कहा कि प्रतिदिन योग साधना करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को फायदा होता है. योग एक प्राचीन भारतीय जीवन पद्धति है इससे शरीर, मन और आत्मा को एक साथ लाने का काम होता है. उन्होंने कहा कि योग जहां मन, शरीर, मस्तिक को पूर्ण स्वस्थ बनाता है वहीं शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली केा मजबूत बनाकर नव ऊर्जा का संचार करता है. उन्होंने कहा कि आज की भागदौड़ भरे जीवन में योग का और महत्व बड़ जाता है.

नेहरू युवा केन्द्र समन्वयक एम टोलिया ने सभी का स्वागत करते हुये कहा कि दुनियांभर में आज तीसरा योग दिवस मनाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि हमारे प्रधान मंत्री ने दुनिया में योग की अलख जगाई है. आज लगभग 200 देशों में योग किया जा रहा है. योगाभ्यास में महाप्रबंधक कुमाऊ मण्डल विकास निगम टीएस मर्तोलिया, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एचके जोशी, डा0 टीके टम्टा, मुख्य कोषाधिकारी नरेन्द्र सिंह, उप निदेशक पर्यटन जेसी बेरी, प्रभागीय वनाधिकारी डीएस मीणा, केएस बिष्ट, तहसीलदार प्रियंका रानी, सहित जीजीआईसी, जीजीआईसी, सैनिक, प्रेमा जगाती, बालिका, एशडेल, सीआरएसटी स्कूलों के छात्र-छात्राओं के साथ ही एनसीसी, एनएसएस, स्वयं सेवी संगठन व अनेक अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे.