ना तो भारत पाक में खेले, ना पाक यहां खेलने आए : अमित शाह

नई दिल्ली,महाराष्ट्र दौरे के दौरान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा ना हम पाकिस्तान खेलने जाते हैं और ना ही पाकिस्तान भारत में आता है. दरअसल भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एक सवाल के जवाब में ये बात कही. अमित शाह ने कहा कि ने कहा कि ये एक अंतर्राष्ट्रीय आयोजन का हिस्सा है. रिपोर्टर को अमित शाह ने कहा कि आपका क्या मानना है कि भारत कोई चैंपियंस ट्रॉफी ही ना खेले. भारत हर अंतर्राष्ट्रीय लीग से बाहर हो जाए. अंतर्राष्ट्रीय फोरम पर मैच होंगे तो खेलने ही होंगे. दरअसल अमित शाह रिपोर्टर के उस सवाल का जवाब दे रहे थे जिसमें पूछा गया कि कश्मीर में जिस तरह के हालात चल रहे हैं ऐसे में दोनों देशों के बीच जो मैच हो रहे हैं क्या उनका होना सही है.

 

बता दें कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह 110 दिन भारत दौर पर हैं. जिसके तहत शनिवार को मुंबई पहुंचे हैं. इस दौरान केंद्र सरकार के कार्यकाल पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि ये दीनदयाल उपाध्याय की जन्म शताब्दी का साल है. तीन साल के कार्यकाल में हमारे विरोधी भी हमपर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा सकते.

 

प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए अमित शाह ने आगे कहा, देश की अर्थव्यवस्था को भाजपा सरकार ने दुनिया में सबसे तेजी से उभरती हुई अर्थव्यवस्था की कतार में खड़ा किया है. आर्थिक विकास के हर पैमाने पर सरकार बहुत आगे खड़ी है. सरकार ने गरीब, किसानों और आदिवासियों के लिए बहुत सारी योजनाएं बनाई. साथ ही इन योजनाओं को प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचाने का काम भी किया जा रहा है. यूपीए की पिछली सरकार निर्णय लेने में सक्षम नहीं थी. यूपीए की सरकार में हर मंत्री अपने आप को प्रधानमंत्री मानता था और प्रधानमंत्री को कोई प्रधानमंत्री नहीं मानता था. लेकिन भाजपा सरकार में ऐसा नहीं है.