प्रेस क्लब ने किया प्रणय रॉय के घर पर CBI छापे का विरोध

नई दिल्ली, लोकप्रिय पत्रकार प्रणय रॉय के घर पर सीबीआई द्वारा मारे गए छापे को लेकर दिल्ली प्रेस क्लब में बड़े पैमाने पर संपादक, पत्रकार एकत्रित हुए. इन लोगों ने बैठक में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की नीतियों पर हमला किया. पूर्व केंद्रीय मंत्री और पत्रकार अरूण शौरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की. अरूण शौरी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के कार्यकाल में मंत्री थे.

सीबीआई द्वारा मारे गए छापे को लेकर प्रणय रॉय ने कहा कि जो जांच की जा रही है वह एक तय समय में हो उन्होंने कहा कि घुटनों के दम पर चलना चाहिए. हम तुम्हें झुका देंगे. वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने वीडियो संदेश में कहा कि मौजूदा समय में खामोशी किसी तरह का विकल्प नहीं है.आज हमें सही रास्ते पर जाकर विरोध करना होगा.

इस मामले में इंडिया टुडे समूह के एडिटर इन चीफ अरूण पुरी ने अपना संदेश दिया और उन्होंने कहा कि वे मुंबई में हैं ऐसे में वे वहां मौजूद नहीं रह सके. उक्त बैठक में कुलदीप नैयर, अरूण शौरी, एचके दुआ, ओम थानवी, शेखर गुप्ता, डॉ० प्रणय रॉय आदि शामिल थे. प्रेस क्लब के इस कार्यक्रम में कानूनविद फली नरीमन आदि भी शामिल थे. फली नरीमन ने छापे की कार्रवाई को मीडिया पर हमला बताया उन्होंने कहा कि यह तो अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर हमला है.