उत्तरकाशी : भागीरथी सड़क हादसे के दो हफ्ते बाद मिले दो तीर्थयात्रियों के शव

उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में भीषण बस हादसे के 15 दिन बाद बुधवार को मध्यप्रदेश के उन दो तीर्थयात्रियों के शव मिल गए, जो दुर्घटना के बाद से ही लापता थे.

इंदौर संभाग के आयुक्त (राजस्व) संजय दुबे ने बताया कि उत्तरकाशी के धरासू क्षेत्र में मिले शवों की शिनाख्त संतोष बाई (60) और तेजकरण चौधरी (25) के रूप में हुई है. इनके शव पहाड़ी क्षेत्र की चट्टानों में फंस गए थे.

उन्होंने बताया कि दोनों शवों की हालत बेहद खराब हो चुकी है. लिहाजा इनके परिजनों को उत्तराखंड भेजकर हरिद्वार में शवों के अंतिम संस्कार की व्यवस्था की जा रही है.

इंदौर जिले से ताल्लुक रखने वाले संतोष बाई और चौधरी उन 24 तीर्थयात्रियों में शामिल थे, जिनकी उत्तरकाशी जिले में 23 मई की शाम बस हादसे में मौत हो गई थी. इनकी बस गहरी खाई में गिरकर भागीरथी नदी में समा गई थी.

हादसे में मारे गए 22 तीर्थयात्रियों के शवों को एयर इंडिया के विशेष विमान से 25 मई को इंदौर लाया गया था. ये लोग मध्यप्रदेश के इंदौर और धार जिले के ग्रामीण क्षेत्रों के रहने वाले थे. वे 12 मई को उत्तराखंड की चार धाम तीर्थयात्रा पर रवाना हुए थे.