कानपुर : भूखी बकरी ने मालिक के 66000 रुपये खाकर की अपनी भूख शांत

कानपुर, जानवर अगर भूखा हो तो वह आपका बड़ा नुकसान भी कर सकता है. ऐसा ही किया एक ‘भूखी’ बकरी ने. कन्नौज जिले के एक गांव में बकरी ने अपने मालिक के हजारों रुपये बर्बाद कर दिए. बकरी को ‘भूख’ लगी तो उसने मालिक के पैंट की जेब में रखे 66,000 रुपयों के नोटों को चबाना शुरू कर दिया. किसान सर्वेश कुमार ने इतनी रकम 2-2 हजार के नोटों के रूप में रखी थी. उन्होंने इन पैसों को अपने मकान में निर्माण कार्य के लिए ईंटें खरीदने के लिए इकट्ठा किया था.

सर्वेश कुमार की नजर जब नोट चबाती बकरी पर पड़ी तो वह हैरान रह गए और जल्दी से नोटों को बर्बाद होने से बचाने पहुंचे. 33 नोटों में से वह सिर्फ 2 नोट बचाने में कामयाब हुए, 31 नोट बर्बाद हो चुके थे. सर्वेश कुमार ने बताया, ‘मैं नहा रहा था और 66,000 रुपये मेरी पैंट की जेब में रखे हुए थे. फिर क्या था, कागज की चीजें खाने के लिए बदनाम बकरी को मौका मिल गया और उसने अपने पसंदीदा भोजन को खाना शुरू कर दिया. मैं क्या करता, मेरी बकरी मेरे बच्चे के समान है.’ उन्होंने आगे बताया, बाद में बकरी की लार में डूबे दो नोटों को बचाया जा सका. उनकी बकरी के नोटों की गड्डी चबा जाने की खबर फैलने के बाद सर्वेश के पड़ोसी और गांववाले बकरी की एक झलक पाने को उनके घर पहुंच रहे है. कई लोगों को मामला बड़ा दिलचस्प लग रहा है, कई लोगों ने तो बकरी के साथ सेल्फी भी ली.

सर्वेश बताते हैं, ‘कई लोगों ने मुझे सलाह दी कि मैं इसे पशु चिकित्सक के पास ले जाऊं ताकि कुछ दवा खिलाकर उसे उल्टियां कराई जा सकें। ऐसा करने से शायद नोट वापस मिल सकें. वहीं कई लोगों ने बकरी को कसाई को बेचने की भी सलाह दी क्योंकि वे मानते हैं कि बकरी उनके लिए बदकिस्मती लाई है.’ सर्वेश के एक पड़ोसी ने बकरी को अपराधी बताते हुए पुलिस को सौंपने की सलाह दी. हालांकि, सर्वेश और उनकी पत्नी ने कहा, ‘हम अपने पालतू जानवर के प्रति क्रूर नहीं हो सकते, वह हमारी अपनी संतान जैसी है.’