पिथौरागढ़: नैनी-सैनी हवाई पट्टी जांच में उतरी खरी, जल्द शुरू होगी हवाई सेवा

पिथौरागढ़, पिथौरागढ़ जिले की नैनी-सैनी हवाई अड्डे से हवाई सेवा जल्द शुरू हो जाएगी. भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण दिल्ली की ओर से जीपीएस उपग्रह से लैस गियरलेस स्वीडिश वाहन ने परखा. रनवे पर हाई स्पीड विमान के उतरने पर होने वाले घर्षण की जांच की गई. बता दें कि नैनी-सैनी हवाई पट्टी पर 100 से 150 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से उतरने वाले विमानों की जांच की गई.

आपको बता दें कि जांच के बाद तेज रफ्तार वाले विमानों को उतारने के लिए इस हवाई पट्टी को उपयुक्त पाया गया है. वरिष्ठ अधीक्षक विक्रम सिंह, सुपर वाइजर कुलदीप सिंह, वरिष्ठ अधीक्षक धर्मवीर और तकनीकी विशेषज्ञ विनोद कुमार ने सुबह से नैनी सैनी हवाई पट्टी पर हवाई जहाज के उतरने से होने वाले घर्षण की जांच की गई. जांच के दौरान विशेषज्ञों ने पट्टी का हाइड्रोलिक प्रेशर एवरेज उपयुक्त बताया है.

यह दल अब अपनी रिपोर्ट एयरपोर्ट ऑथारिटी ऑफ इंडिया को सौंपेगा. उन्होंने बताया कि रन वे की घर्षण क्षमता को नापने आए जीपीएस उपग्रह से लैस स्वीडिश वाहन को ट्रॉले में लाया गया था. अब ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही नैनी-सैनी हवाई पट्टी से विमान उड़ान भरना शुरू कर देंगे. अगर ऐसा होता है तो राज्य में पर्यटन को और बढ़ावा मिलेगा.