उत्तराखण्ड में अब सिर्फ छह घंटे ही खुलेंगी शराब की दुकानें, ये चार जिले रहेंगे नियमों से मुक्त

देहरादून, उत्तराखंड में नई आबकारी नीति लागू हो गई है. इस नीति के तहत हरिद्वार, देहरादून, नैनीताल और ऊधमसिंह नगर को छोड़ बाकी सभी जिलों में केवल छह घंटे ही शराब की दुकानें खुलेंगी. बता दें कि राज्य सरकार की ओर से इस वर्ष 503 दुकानों के लिए आवेदन मांगे गए थे लेकिन इन आवेदन के सापेक्ष सिर्फ 446 दुकानों का ही आवंटन हो पाया है. शेष के लिए दोबारा प्रक्रिया शुरू की जाएगी.

गौरतलब है कि प्रदेश सरकार ने नई आबकारी नीति लागू कर दी है. इस नई नीति के तहत प्रदेश में देशी व विदेशी शराब बेचने के लिए 503 दुकानों की नीलामी रखी गई जिसमें से 446 दुकानों का आवंटन कर दिया गया. राष्ट्रीय और राज्य राजमार्ग के 500 मीटर के दायरे से शराब की दुकानों को हटाने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश और लोगों के विरोध के बाद इस बार दुकानों की संख्या कम की गई है. बता दें कि पिछली बार नीलामी के लिए रखी गई दुकानों की संख्या 524 थी.

आबकारी मंत्री प्रकाश पंत का कहना है कि प्रदेश में नई नीति लागू हो गई है. नई नीति के तहत पर्वतीय जिलों में दोपहर 12 से शाम के छह बजे तक ही दुकानें खुलेंगी. सभी दुकानों के लिए आवेदन न आने के कारण विभाग को पांच प्रतिशत तक का नुकसान हो सकता है. इसकी भरपाई शराब की तस्करी रोक कर की जाएगी.नई आबकारी नीति के तहत शराब के ठेकों के आवंटन के बाद भी प्रदेश में लोगों का विरोध कम नहीं हुआ है.