कोटद्वार में निकली आरएसएस की रैली, मुस्लिमों ने मस्जिद से फेंके…

आरएसएस एक राष्ट्रवादी संगठन है और इसको कट्टर हिन्दूवादी संगठन भी माना जाता है. माना यह भी जाता है कि मुस्लिमों के बीच इस संगठन को पसंद नहीं किया जाता और संगठन के अंदर भी मुस्लिमों के लिए कोई बहुत अच्छी भावना नहीं है. लेकिन यह खबर ऐसी मान्यताओं को तोड़ती है.

उत्तराखंड में पौड़ी जिले के कोटद्वार में बुधवार को हिन्दू-मुस्लिम कौमी एकता की अनोखी मिसाल देखने को मिली. दरअसल हिन्दू नववर्ष के आगमन की खुशी में शहर में जब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ता पद संचलन रैली निकाल रहे थे, तभी मुस्लिम समाज के लोग उन पर अपनी मस्जिद के पास पुष्प वर्षा कर रहे थे.

शहर में निकाली गई आरएसएस की इस रैली का मुस्लिम समाज के लोगों ने स्वागत करते हुए कौमी एकता की जो मिसाल पेश की वह अक्सर कम ही देखने को मिलती है.