कैमरे में कैद, ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने दी मुरली विजय को गाली

बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी पर कब्जे को लेकर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच धर्मशाला में जंग में चल रही है. मैच का तीसरा दिन खत्म होने के साथ भारत का पलड़ा भारी दिख रहा है. ऑस्ट्रेलिया हार की कगार पर है. ऐसे में उनके खिलाड़ियों की बौखलाहट दिखाई देने लगी है.

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ कैमरे पर भारतीय ओपनर मुरली विजय को गाली देते पकड़े गए. यह वाकिया भारतीय खिलाड़ियों द्वारा हेजलवुड का कैच लेने का दावा किए जाने के दौरान हुआ. हेजेलवुड आउट होने वाले अंतिम खिलाड़ी थे.

मुरली विजय सेकेंड स्लिप पर फील्डिंग कर रहे थे. हेजेलवुड के बल्ले से निकली गेंद को कैच किया और यह सोचते हुए ड्रेसिंग रूम की ओर चल पड़े कि ऑस्ट्रेलियाई पारी का अंत हो गया है. इसलिए मैदान पर जल्दी आने के लिए बैटिंग किट की ओर भागे. हालांकि थर्ड अंपायर ने कैच के दावे को खारिज दिया. रीप्ले में ऐसा लगा कि गेंद विजय के हाथों में पहुंचने से पहले जमीन को छू गई थी. इसलिए निर्णय भारत के खिलाफ आया. वहीं, ऑस्ट्रेलियाई ड्रेसिंग रूम में बैठे कप्तान स्मिथ गाली देते हुए पकड़े गए. माना जा रहा है कि स्मिथ ने ये अपशब्द विजय के लिए प्रयोग किए.

हेराल्ड सन के मुताबिक, ‘ऑस्ट्रेलिया के बैटिंग कोच ग्रेम हिक ने विजय का बचाव किया और स्मिथ को लेकर कोई भी टिप्पणी करने से इनकार कर दिया.’ ऐसा माना जाता है कि बीसीसीआई ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ के व्यवहार से खासा नाराज है.

हालांकि इसकी कोई शिकायत नहीं की जाएगी. ऑस्ट्रेलियाई कप्तान बेंगलुरू टेस्ट के बाद लगातार विवादों में हैं. विवाद उनका पीछा नहीं छोड़ रहे हैं. स्मिथ भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं.

उधर, चार मैचों की सीरीज के अंतिम और निर्णायक मैच में टीम इंडिया ने अपनी पकड़ काफी मजबूत कर ली है. पहले दो दिन दोनों टीमों के बीच जोरदार संघर्ष देखने को मिला, लेकिन तीसरे दिन के खेल में टीम इंडिया पूरी तरह हावी नजर आई. ऐसा ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा के शानदार प्रदर्शन के कारण संभव हुआ. जडेजा ने 63 रन बनाने के बाद गेंद से भी धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए ऑस्ट्रेलिया को बैकफुट पर धकेल दिया.

इसमें तेज गेंदबाज उमेश यादव और रविचंद्रन अश्विन का भी अहम योगदान रहा. दूसरी पारी में पूरी ऑस्ट्रेलियाई टीम 137 रन पर ही सिमट गई. रवींद्र जेडजा, आर अश्विन और उमेश यादव ने तीन-तीन विकेट, तो भुवनेश्वर ने एक विकेट लिया.

टीम इंडिया को यह मैच जीतकर सीरीज पर कब्जा करने के लिए 106 रन की जरूरत है. दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया ने 19 रन बना लिए. मुरली विजय (6) और लोकेश राहुल (13) नाबाद रहे. चौथे दिन भारत को जीत के लिए अब 87 रनों की और जरूरत है.