कुमाऊं-गढ़वाल को करीब लाने की तैयारियां शुरू । जल्द खोजा जायेगा हल

उत्तराखंड के गढ़वाल और कुमाऊं के बीच दूरी कम करने के उद्देश्य से जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय पार्क से होकर गुजरने वाली प्रस्तावित कंडी रोड परियोजना के लिए राज्य सरकार एक ऐसे हल के पक्ष में है, जिसमें वन्यजीवों की सुरक्षा के साथ ही आम जनता की सुविधा का भी ध्यान रखा जाए.

कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के भीतर से गुजरने वाली इस सड़क परियोजना को रद्द करने के लिए वन्यजीव प्रेमियों द्वारा राज्य सरकार को एक ऑनलाइन याचिका दिेए जाने की खबरों के बीच राज्य के वन मंत्री हरक सिंह रावत ने रविवार को कहा कि सभी संबंधित पहलुओं का पूरा ध्यान रखते हुए ही इस परियोजना को पूरा किया जाएगा.

कोटद्वार और रामनगर के बीच कंडी रोड के बनने पर दोनों स्थानों के बीच की दूरी 162 किलोमीटर से घटकर 80-90 किलोमीटर रह जाएगी.

हरक रावत ने बताया कि एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार के लोक निर्माण विभाग को नया एलाइनमेंट कर प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये थे और हम न्यायालय में जल्द ही नए प्रस्ताव के साथ जाएंगे.