गोरक्षा के नाम पर कानून से खेलनेवालों पर हो कड़ी कार्रवाई: योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी में अवैध बूचड़खानों को बंद करने और मनचलों के खिलाफ ऐंटी रोमियो अभियान के दौरान कुछ लोगों द्वारा कानून हाथ में लेने की घटनाओं को गंभीरता से लिया है. मुख्यमंत्री ने गुरुवार को वरिष्ठ अधिकारियों को गोरक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेने वालों और मॉरल पुलिसिंग करने वाले तत्वों से सख्ती से निपटने का निर्देश दिया.

मुख्यमंत्री ने यह निर्देश हाथरस जिले में मीट की दुकानों को आग लगाए जाने की घटना के बाद दिया. इसके अलावा मॉरल पुलिसिंग की भी कई रिपोर्ट्स मिलीं जब ऐंटी रोमियो स्क्वॉड में शामिल पुलिस वालों ने दोस्ताना बातचीत कर रहे निर्दोष लड़के-लड़कियों का कथित तौर पर उत्पीड़न किया. ऐसी घटनाओं पर अपनी नाखुशी जाहिर करते हुए योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को हिदायत दी कि अगर इस तरह के मामले सामने आएं तो कड़ी कार्रवाई की जाए।

मुख्य सचिव राहुल भटनागर, प्रमुख सचिव (गृह) देबाशीष पांडा, डीजीपी जावीद अहमद समेत शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की अध्यक्षता करते हुए योगी ने कहा कि ऐसी घटनाओं से सख्ती से निपटना चाहिए. मुख्यमंत्री ने डीजीपी को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि अवैध बूचड़खानों की जांच के नाम पर आगजनी की घटनाएं फिर से ना हों