अब डिग्री और सर्टिफिकेट में स्टूडेंट्स की फोटो और आधार नंबर अनिवार्य : यूजीसी

अब आधार कार्ड केवल रसोई गैस सब्सिडी लेने बैंकिग और सरकारी कामकाजों में ही उपयोग होने की वस्तु नहीं रह गई. आधार का यूनीक आईडी और छात्र-छात्राओं की फोटो का उपयोग यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमीशन यानी UGC ने छात्र-छात्राओं को दी जाने वाली डिग्री और सर्टिफिकेट में भी करने के निर्देश दिए है.

UGC के सेक्रेटरी जे एस संधू ने कहा, ‘इस कदम से देश में उच्‍च शिक्षा के क्षेत्र में अधिक पारद‍र्शिता आएगी. इससे छात्रों की पहचान करना आसान होगा और वेरिफिकेशन जल्‍दी हो सकेगा. गौरतलब है कि संधू ने जो निर्देश दिए हैं उसमें कहा गया है कि छात्रों की फोटो और आधार का यूनीक आईडी, सर्टिफिकेट और डिग्री में होना चाहिए.
बता दें कि कुछ दिन पहले ही UGC ने देश में फेक यूनिवर्सिटीज की एक लिस्‍ट जारी की थी. इसमें कहा गया था कि इस तरह की यूनिवर्सिटीज सबसे अधिक उत्‍तर प्रदेश और दिल्‍ली में हैं.

मानव संसाधन विकास मंत्रालय की मंजूरी के बाद यूजीसी देशभर के विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को दिशानिर्देश जारी कर दिया है. यूजीसी द्वारा जारी पत्र में लिखा है कि वे डिग्री और सर्टिफिकेट में सुरक्षा के लिए अब छात्रों के फोटोग्राफ और आधार नंबर जैसी पहचान प्रणाली जोड़ी जाए.
इससे नौकरी या दाखिले में डिग्री या सर्टिफिकेट की जांच के लिए सत्यापन भी साबित कर सकते है, क्योंकि आधार नंबर से छात्र की डिटेल व फोटो से पहचान हो जाएगी कि यह उस व्यक्ति की ही डिग्री, सर्टिफिकेट व मार्कशीट है। इसके साथ इस नई प्रणाली से डिग्री या सर्टिफिकेट में नकली होने की दिक्कत भी दूर हो जाएगी, क्योंकि सारा रिकॉर्ड ऑनलाइन उपलब्ध होगा

देशभर के विश्वविद्यालयों और उच्च शिक्षण संस्थानों में नया नियम आगामी सत्र से लागू होने जा रहा है. आधार को लेकर यह नया नियम शुरुआती दौर में उच्च शिक्षा में ही लागू किया जाएगा बाद में इसे स्कूल स्तर पर भी लागू किया जाएगा