योगी आदित्यनाथ: उत्तर प्रदेश दंगा, भ्रष्टाचार से मुक्त होगा

नई दिल्ली , उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बतौर सांसद मंगलवार को लोकसभा में वित्त विधेयक 2017 की चर्चा के दौरान कहा कि वह राज्य को भ्रष्टाचार और सांप्रदायिक दंगों से मुक्त कराने के लिए कार्य करेंगे. गोरखपुर से लंबे समय से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सदस्य रहे आदित्यनाथ ने लोकसभा में कहा कि वह सबसे ज्यादा आबादी वाले राज्य में असामाजिक तत्वों पर रोक लगाएंगे.

उन्होंने कहा, “हम राज्य को भ्रष्टाचार, दंगा और गुंडागर्दी से मुक्त कराने के लिए कार्य करेंगे. हम एक विकास का मॉडल प्रस्तुत करेंगे जो युवाओं की नौकरियों के संकट को रोकेगा.”

योगी ने गोरखपुर में बदलाव लाने का श्रेय खुद को दिया और यह भी माना कि लोगों को पहले उनकी सकारात्मक छवि का फायदा नहीं मिला.

उन्होंने कहा कि गोरखपुर में कोई व्यापारी अब ‘गुंडा कर’ का भुगतान नहीं करता है. शहर में अब अपहरण की घटनाएं नहीं होती हैं और पूर्वी उत्तर प्रदेश में किसी तरह का सांप्रदायिक दंगा नहीं होता.

उन्होंने कहा, “हम वैसी ही स्थिति उत्तर प्रदेश में पैदा करने में सफल होंगे.”

योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर रविवार को शपथ ग्रहण किया. वह मंगलवार की सुबह दिल्ली आए और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. वह भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से भी मिले. उत्तर प्रदेश में मत्रियों के विभाग शाह ही तय करेंगे.