कैलाश मानसरोवर यात्रियों को इस बार मिलेंगी बेहतरीन सुविधाएं

 

कैलाश मानसरोवर यात्रियों के लिए खुशखबरी है. इस साल उत्तराखंड के रास्ते कैलाश मानसरोवर यात्रा करने वाले यात्रियों को और अधिक सुविधाएं मिल सकेंगी. यात्रियों को उच्च हिमालय क्षेत्र में पैदल यात्रा के दौरान आवास की बेहतरीन सुविधाएं मिलेंगी.

कुमाऊं मंडल विकास निगम इस क्षेत्र में बने आधा दर्जन हट्स में सुविधाएं बढ़ा रहा है. इस साल यात्रा पर जाने के लिए देशभर से 3298 यात्रियों ने आवेदन किया है.

जून माह से शुरू होनी वाली कैलाश मानसरोवर यात्रा के लिए यात्रियों की कंप्यूटर फीडिंग 31 मार्च को दिल्ली में हो जाएगी. इसके बाद तय होगा कि उत्तराखंड के रास्ते इस वर्ष कितने यात्री यात्रा पर जाएंगे.

उत्तराखंड के लिपूलेख दर्रे के साथ ही सिक्किम के नाथूला दर्रे से भी यात्रा का संचालन होता है. यात्रा में इस साल भी 18 दल भेजे जाने की योजना है. प्रत्येक दल में यात्रियों की संख्या का निर्धारण कम्प्यूटर फीडिंग के बाद ही होगा.

यात्रा आयोजक कुमाऊं मंडल विकास निगम के महाप्रबंधक (पर्यटन) टीएस मर्तोलिया ने बताया कि यात्रियों को उच्च हिमालयी क्षेत्र में पैदल यात्रा के दौरान आवासीय सुविधा देने के लिए गाला, गुंजी, सिर्खा, कालापानी, नाभीढांग, कूटी में आधुनिक हट्स का निर्माण पिछले वर्ष कराया गया था.

इस साल इन हट्स में और बेहतर सुविधाएं यात्रियों को दी जाएंगी. इसके लिए कार्य शुरू करा दिए गए हैं. इन हट्स में यात्रियों को गरम पानी, लजीज भोजन, अच्छे बिस्तर के साथ ही तापमान नियंत्रण की नई सुविधाएं जोड़ी जा रही हैं. मई के दूसरे हफ्ते तक सभी व्यवस्थाएं चाक चौबंद कर ली जाएंगी.