तीन दशक बाद खुलेगी कुमाऊं-गढ़वाल को और करीब लाने वाली यह सड़क

मुख्यमंत्री बनने के बाद त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सोमवार को कुमाऊं और गढ़वाल को जोड़ने वाली कंडी रोड (रामनगर-कोटद्वार) को खोलने का ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि अगर यह सड़क खुल जाएगी तो गढ़वाल से कुमाऊं के लिए उत्तरप्रदेश होकर नहीं जाना पड़ेगा. गौरतलब है कि कोटद्वार से शुरू होकर यह सड़क कालागढ़ होते हुए नैनीताल जिले में कॉर्बेट नगरी रामनगर को जोड़ती है.

सीएम त्रिवेंद्र रावत ने सोमवार को मीडिया से बात करते हुए कहा है कि गढ़वाल-कुमाऊं को जोड़ने वाली कंडी रोड को जल्द से जल्द खोल दिया जाएगा. यह सड़क वन विभाग के अधीन है और कार्बेट पार्क के काफी करीब से होकर गुजरती है. केंद्र सरकार की मंजूरी के बाद ही इस सड़क को खोला जा सकेगा.

गौरतलब है कि इस सड़क के खुल जाने के बाद गढ़वाल और कुमाऊं के बीच आवाजाही के लिए उत्तर प्रदेश से होकर नहीं गुजरना पड़ेगा. पिछले करीब तीन दशक से ग्रामीण इस सड़क को खोलने की मांग करते रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस सड़क को खोलने के लिए जो भी संभव होगा किया जाएगा.