गोवा-पंजाब के परिणाम से हिम्मत न हारें, लड़ाई जारी रखें : केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को आम आदमी पार्टी (आप) के कार्यकर्ताओं से पंजाब और गोवा में मिली हार के बाद हिम्मत न हारने और दिल्ली निकाय चुनाव के लिए तैयार रहने के लिए कहा. सोशल मीडिया पर लाइव प्रसारण के जरिए केजरीवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी की लड़ाई जारी रहेगी.

केजरीवाल ने कहा, ‘आप सच्चाई के मार्ग पर चलते हुए इस लड़ाई को लड़ रहे हैं. देश की सभी भ्रष्ट शक्तियां आपके खिलाफ खड़ी हैं. ऐसे समय आएंगे, जब परिणाम आपकी अपेक्षा के विपरीत होंगे. लेकिन मत भूलिए कि अंत में जीत सत्य की ही होती है.’

केजरीवाल ने कहा कि गोवा और पंजाब के चुनाव परिणाम अस्थायी झटके हैं और अंतत: हमारी जीत तय है, क्योंकि आप के कार्यकर्ता ‘निस्वार्थ भाव से सही उद्देश्यों’ के लिए लड़ रहे हैं.

दिल्ली के तीनों नगर निगमों में 22 अप्रैल को चुनाव होने हैं. पार्टी कार्यकर्ताओं से निकाय चुनाव में जीत हासिल करने के लिए जी-जान से लगने का आह्वान करते हुए केजरीवाल ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) द्वारा शासित नगर निगम में चीजों को सही करने का यह एकमात्र तरीका है.

केजरीवाल ने कहा, ‘दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी है, इसके बावजूद यहां कचरे का ढेर है. हमने नगर निगम के साथ काम करने की अपनी पूरी कोशिश की. हमने उन्हें जितना चाहिए था उतनी धनराशि दी, लेकिन कोई काम नहीं बना. अब मैं नगर निगम में आप की सत्ता लाने के लिए आपसे कठिन परिश्रम करने के लिए कह रहा हूं.’

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को साफ-सुथरा रखने के लिए जितनी धनराशि की जरूरत होगी, सरकार खर्च करेगी और नगर निगम में एक सच्ची सरकार लाएगी.

उन्होंने कहा, ‘आज लोग दिल्ली को पेरिस बनाने की बात कर रहे हैं. लेकिन हम दिल्ली को इतना बदल देंगे कि लोग पेरिस को दिल्ली बनाने की बात कहने लगेंगे.’

केजरीवाल ने साथ ही पंजाब में आप कार्यकर्ताओं से मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर चुनाव के दौरान किए गए वादे पूरे करने के लिए दबाव बनाने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि ईमानदार राजनीति के जरिए आप अन्य दलों को अपनी राजनीति बदलने के लिए मजबूर कर रहे हैं.