आज मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे त्रिवेंद्र रावत, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी रहेंगे मौजूद

फाइल फोटो - मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत

वरिष्ठ भाजपा नेता और डोईवाला से विधायक त्रिवेंद्र सिंह रावत उत्तराखंड के अगले मुख्‍यमंत्री होंगे और शनिवार को उन्हें मुख्यमंत्री पद की शपथ दिलायी जाएगी. शुक्रवार को देहरादून में भाजपा विधायक दल बैठक में उन्हें विधायक दल का नेता चुना गया और मुख्यमंत्री पद के लिए उनके नाम पर मुहर लग गई.

गौरतलब है कि 11 मार्च को उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2017 के परिणाम घोषित हुए थे. चुनाव परिणाम में भाजपा को प्रचंड बहुमत मिला. भाजपा ने 70 सीटों में से 57 पर जीत हासिल की. मुख्यमंत्री पद की दौड़ में त्रिवेंद्र सिंह रावत, सतपाल महाराज और प्रकाश पंत का नाम चर्चाओं में था.

त्रिवेंद्र सिंह रावत का जन्म 20 दिसंबर 1960 को पौड़ी गढ़वाल में हुआ था। त्रिवेंद्र ने स्नातकोत्तर के साथ ही पत्रकारिता में डिप्लोमा भी किया है। उनका सार्वजनिक जीवन 1979 में उस समय शुरू हुआ, जब वे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े। 1981 में उन्होंने संघ प्रचारक के रूप में काम शुरू किया और 1985 में देहरादून महानगर के प्रचारक बने।

साल 1993 में उन्हें भाजपा के क्षेत्रीय संगठन मंत्री की जिम्मेदारी दी गई। उत्तराखंड राज्य बनने के बाद साल 2002 में वे पहली बार देहरादून की डोईवाल से विधायक बने, इसके बाद 2007 में भी उन्हें इस सीट पर जीत मिली और राज्य सरकार में कृषि मंत्री की जिम्मेदारी भी।

साल 2012 में रायपुर सीट से हार के बाद 2014 में डोईवाला सीट पर हुए उपचुनाव में भी त्रिवेंद्र को हार का मुंह देखना पड़ा। इसके बाद उन्हें झारखंड का प्रदेश प्रभारी बनाया गया और उत्तर प्रदेश में भी अमित शाह के साथ सह-प्रभारी रहे। 2017 के विधानसभा चुनाव में डोईवाला सीट से जीतकर त्रिवेंद्र रावत तीसरी बार विधायक बने।