बाड़मेर में वायुसेना का लड़ाकू विमान सुखोई दुर्घटनाग्रस्त, पायलट सुरक्षित बचे

राजस्थान के बाड़मेर जिले में बुधवार को एक सुखोई 30 एमकेआई विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया.अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रामेश्वर लाल ने बताया कि बाड़मेर में सदर पुलिस थाने के शिवकर गांव में विमान दुर्घटनाग्रस्त हुआ.

उन्होंने बताया, ‘ग्रामीणों ने हमें बताया कि पायलट दुर्घटना के ठीक पहले विमान से निकल गया था. घटना के बारे में वायुसेना के अधिकारियों को सूचित कर दिया गया है.’ उन्होंने कहा कि इस हादसे के कारण गांव को भी नुकसान पहुंचा है.एक ही परिवार के तीन लोग घायल हो गए. इसमें धुरा राम, उनकी पत्‍नी और नाती घायल हो गए. उनको अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है

हादसे की जांच के लिए वायुसेना ने कोर्ट ऑफ इन्कवायरी के आदेश दे दिए हैं. वायुसेना के पास पहले से ही कम लड़ाकू विमान हैं. ऐसे में अंग्रिम पंक्ति के लड़ाकू विमान का दुर्घटनाग्रस्त होना काफी गंभीर चिंता का विषय है.

वायुसेना के पास करीब 200 सुखोई लड़ाकू विमान है. ये विमान रूस से खरीदा गया था. 1997 में पहली बार वायुसेना में सुखोई लड़ाकू विमान भारतीय वायुसेना में शामिल हुआ और 2002 के बाद ट्रांसफर ऑफ तकनीक के जरिए ये विमान देश में ही हिन्दुस्तान ऐरोनेटिक्स लिमिटेड बेंगलुरु में बनने लगा. ये सातवां सुखोई लड़ाकू विमान है जो दुर्घटनाग्रस्त हुआ है.