उत्तराखंड और यूपी में BJP की बड़ी जीत के बावजूद होली नहीं खेलेंगे राजनाथ सिंह, जानें क्यों?

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सैनिकों के शहीद होने की वजह से केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस साल होली का त्योहार नहीं मनाने का ऐलान किया है. सुकमा में हुए नक्सली हमले में सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) के 12 जवान शहीद हो गए थे. शनिवार को उन्होंने सुकमा जिले में हुए नक्सली हमले में शहीद जवानों को माना स्थित चौथी वाहिनी जाकर श्रद्धांजलि अर्पित की.

राजनाथ ने से कहा कि जवानों की शहादत को व्यर्थ नहीं होने दिया जाएगा. नक्सलियों ने हताशा के चलते इस घटना को अंजाम दिया है. नक्सली पिछले कुछ समय से बचाव की मुद्रा आ गए हैं. इसके चलते उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया. गृहमंत्री ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के बस्तर में हुई जवानों की ये शहादत अनमोल है. उन्होंने शहीद जवानों के परिवार को एक करोड़ रुपये बतौर अनुकंपा देने का ऐलान किया.

सुकमा जिले के भेज्जी थाना क्षेत्र के घने जंगलों में नक्सलियों ने सीआरपीएफ के गश्ती दल पर घात लगाकर हमला कर दिया. हमले में सीआरपीएफ की 219वीं बटालियन के 12 जवान शहीद हो गए, जबकि तीन अन्य जवान घायल हो गए. अधिकारियों ने बताया कि गश्ती दल को भेज्जी क्षेत्र में बन रहे इंजरम भेज्जी मार्ग की सुरक्षा के लिए रवाना किया गया था.

दल में लगभग 100 जवान शामिल थे. दल जब भेज्जी और कोत्ताचेरू गांव के मध्य जंगल में था तब नक्सलियों ने पुलिस दल पर गोलीबारी शुरू कर दी. हमले में सीआरपीएफ के 11 जवानों की मौके पर ही मौत हो गयी, जबकि चार अन्य घायल हो गए.

पीएम मोदी ने नक्सलवादियों के हमले में सीआरपीएफ के जवानों की मौत पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि गृहमंत्री राजनाथ सिंह हालात का जायजा लेने के लिए सुकमा जा रहे हैं. मोदी ने ट्वीट किया, सुकमा में सीआरपीएफ जवानों की मौत पर दुखी हूं। शहीदों को श्रद्धांजलि और उनके परिजन के प्रति संवेदना। प्रार्थना है कि घायल शीघ्र स्वस्थ हों.