छत्तीसगढ़ः मतगणना के बीच सुकमा में नक्सली हमला CRPF के 11 जवान शहीद, हथियार भी लूटे

पांच राज्यों में चल रही मतगणना के बीच छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा जिले में नक्सली हमले में सीआरपीएफ की 219वीं बटालियन के 11 जवान शहीद हो गए हैं. बताया जा रहा है कि घटना सुकमा के भेज्जी के पास हुई, यहां सड़क निर्माण की सुरक्षा में लगे जवानों को निशाना बनाते हुए नक्सलियों ने पहले आईईडी ब्लास्ट किया, इसके बाद एंबुश लगाकर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी. इस हमले में 9 जवानों की मौत मौके पर ही हो गई थी, वहीं दो जवानों की इलाज के दौरान मौत हो गई. हमले के बाद नक्सलियों ने जवानों के हथियार, रेडियो सेट और अन्य सामान लूट लिये. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर शोक व्यक्त करते हुए शहीद जवानों के प्रति श्रद्धांजलि व्यक्त की है.

सीआरपीएफ ने ट्वीट करके 11 जवानों की शहादत की जानकारी दी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया कि वे इस घटना से दुखी हैं और इस संबंध में गृहमंत्री राजनाथ सिंह से बात करके सुकमा की स्थितियों का जायजा ले रहे हैं.

बताया जा रहा है कि घटनास्थल पर फोर्स भेज दी गई है और वहां से शहीद जवानों के शवों को बाहर निकालने की कोशिशें शुरू कर दी गई हैं. वहीं छत्तीगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने मीडिया से इस हमले को लेकर बातचीत के दौरान कहा कि बस्तर आईजी एसआरपी कल्लूरी और उनके दो खास आईपीएस अधिकारियों को हटाए जाने का इस हमले से कोई संबंध नहीं है. उन्होंने कहा कि यह सीआरपीएफ का मूवमेंट था और घटना अचानक हुई. उन्होंने इस घटना को कायरता पूर्ण बताते हुए इसकी निंदा की.