अमेरिका : फिर हुआ एक भारतीय सिख नस्लभेदी घृणा का शिकार | मारी गोली

अमेरिका में एक और भारतीय पर नस्लीय हमला हुआ है. हमलावर ने 39 साल के एक सिख युवक को गोली मार दी. अज्ञात व्यक्ति ने कथित तौर पर यह कहते हुए गोली चलाई कि ‘अपने देश वापस जाओ.’ खबर के मुताबिक जिस भारतीय युवक को गोली मारी गई हैं वह घर के बाहर अपनी गाड़ी के पास खड़ा था. किसी बात पर दोनो के बीच बहस हो गई और उसने भारतीय युवक पर गोली चला दी. घायल युवक ने अज्ञात हमलावर की पहचान कर ली है और पुलिस को अपना बयान देते हुए कहा है, ‘वह लगभग 6 फीट लंबा था और उसने अपने चेहरे पर मास्क पहन रखा था.
केंट पुलिस प्रमुख केन थॉमस ने कहा, ‘यह एक बहुत ही गंभीर घटना है और इसे उतनी ही गंभीरता से ले रहे हैं और जांच कर रहे है। हमने मामले की जांच शुरू कर दी है और एफबीआई समेत अन्य कानूनी एजेंसियों की मदद ले रहे है’.
इस हमले से एक दिन पहले ही यूएस में एक और भारतीय हरनेश पटेल को गोली मार कर हत्या कर दी गई थी. हरनेश पटेल की घटना ऐसी कोई पहली वारदात नहीं थी.

कुछ ही दिन पहले अमेरिका में दो भारतीय इंजीनियर को नस्लभेद के चलते घृणा अपराधों के शिकार हो गए थे। कंसास शहर में भीड़ के बीच अमेरिकी नौसेना के पूर्व कर्मी ने भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचीभोटला को ‘आतंकी! मेरे देश से चले जाओ’, कहते हुए गोली मार दी थी जिसके बाद अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी. जबकि उसका साथी आलोक मदासानी घायल हो गया था