उत्तराखंड में भी बढ़ रही दरिंदगी, बीफार्मा कर रही छात्रा से चार युवकों ने किया गैंगरेप

सांकेतिक फोटो

शुक्रवार की रात उत्‍तरकाशी जिले के इन्द्रावती पुल के पास एक युवती के साथ चार युवकों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया. रातभर इन दरिदों ने युवती को अपने कब्जे में रखा. सुबह पीड़ित युवती उन दरिदों के चंगुल से भागकर निकली और अपने परिजनों को घटना की जानकारी दी.

दरअसल उत्तरकाशी जिले के एक संस्थान में फार्मेसी की पढ़ाई करने वाली एक युवती शुक्रवार को अपनी सहेली के घर आई थी. शुक्रवार रात को युवती को मिलने के लिए उसका एक दोस्त आया. रात को भोजन करने के बाद दोनों इन्द्रवती पुल की ओर घूमने के लिए निकले. तभी वहां शराब पी रहे चार युवकों ने इन दोनों साथियों का रास्ता रोका और युवती के दोस्त को पीटने लगे.

पीटते-पीटते उन्होंने युवती के दोस्त को वहां से भगा दिया, जिसके बाद युवती को लेकर चारों युवक इन्द्रवती नदी की ओर गए. जहां चारों युवकों ने युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. यही नहीं युवक युवती को बंधक बनाकर अपने कमरे में ले गए. वहां भी इन युवकों ने उसके साथ दुष्कर्म किया.

सुबह जब युवती इन युवकों के चंगुल से भाग निकली तो अपनी सहेली के यहां पहुंची. अपनी सहेली और अपने दोस्त को इस घटना की आपबीती सुनाई. पीड़ित युवती ने अपने परिजनों को इस घटना के बारे में बताया और उत्तरकाशी बुलाया.

परिजन पीड़ित युवती को लेकर उत्तरकाशी कोतवाली पहुंचे. जहां युवती ने मनीष अवस्थी निवासी कोटियाल गांव, आशीष बिजल्वाण पुत्र भीमदत्त बिजल्वाण निवासी ग्राम जोशियाड़ा, विजय शंकर पुत्र हरी शंकर निवासी ग्राम कोटी लदाड़ी, अजय भट्ट पुत्र भीमशंकर भट्ट निवासी ग्राम जसपुर पर उसके साथ गैंगरेप का आरोप लगाया.

इस मामले में पुलिस ने चारों युवकों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज की. चार युवकों में से आशीष बिजल्वाण, विजय शंकर, अजय भट्ट को शनिवार देर शाम पुलिस ने गिरफ्तार किया. जबकि चौथा आरोपी मनीष अवस्थी अभी फरार चल रहा है.

इन सभी आरोपी युवकों की उम्र 20 से 22 साल के बीच में हैं. इन आरोपियों में अजय भट्ट ने होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया है. विजय शंकर बीए की पढ़ाई कर रहा है. युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने के आरोपी तीन युवकों को गिरफ्तार कर दिया है.