मेट्रो में नौकरी दिलाने के नाम कई लोगो से लाखों की ठगी । एक आरोपी गिरफ्तार,मास्टरमाइंड फरार

एक गिरोह ने कई लोगों को लखनऊ मेट्रो में नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों रुपये ठग लिए .इस मामले में 32 युवकों ने काकादेव पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज कराया है. इन युवकों का कहना है कि इस गिरोह ने करीब 250 युवकों से नौकरी के नाम पर लाखों रुपये हड़प लिए.

पुलिस ने एक युवक को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन इस गिरोह का मास्टरमाइंड पुलिस की पकड़ से बाहर है.पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि फतेहपुर और कानपुर के करीब 32 युवक कल शाम काकादेव पुलिस के पास पहुंचे. इन लोगों ने बताया कि फतेहपुर के रहने वाले राहुल ने 25 हजार रुपये में लखनऊ मेट्रो में नौकरी दिलाने की बात कही और अमन गुप्ता नाम के एक व्यक्ति से मिलवाया, जिसने खुद को मेट्रो का मैनेजर बताया. राहुल ने सभी युवकों से रुपये और मार्क्‍सशीट की फोटोकॉपी ले ली और कल लखनऊ ले चलने की बात कही. सब युवक जब कानपुर की गीता क्रासिंग के पास लखनऊ जाने के लिए इकट्ठा हुए तो वहां उन्हें लखनऊ ले चलने के लिए न तो राहुल आया और न अमन. इसके बाद यह युवक राहुल के मकान में पहुंचे तो वहां राहुल मौजूद था, लेकिन इन युवकों को देखकर भागने की कोशिश करने लगा.

इन युवकों ने राहुल को पकड़कर काकादेव पुलिस स्टेशन को सौंप दिया. 32 युवकों का आरोप है कि राहुल और अमन गुप्ता ने करीब 250 युवकों से 25-25 हजार रूपये वसूल किए हैं. पुलिस राहुल से पूछताछ कर इसके दोस्त और मास्टरमाइंड अमन गुप्ता की तलाश कर रही है. पुलिस ने इन 32 युवकों की तहरीर पर इन दोनों के खिलाफ ठगी और धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया है और मामले की जांच कर रही है.