पत्नी और बच्चों की जान लेने के दोषी को तीन बार उम्र कैद की सजा

दक्षिण अफ्रीका में भारतीय मूल के एक व्यक्ति को अपनी पत्नी एवं दो बच्चों की गदा मारकर जान लेने के आरोप में तीन बार आजीवन कारवास भुगतने की आज सजा सुनायी गयी.

मोगांबेरी राजन कंडास्वामी डरबन के समीप भारतीय बस्ती चाटस्वर्थ का रहने वाला है. उसे मृत्युदण्ड इसलिए नहीं दिया जा सका क्योंकि रंगभेद खत्म होने के बाद लोकतांत्रिक व्यवस्था में इस सजा पर संवैधानिक रूप से रोक लगा दी गयी है.

कंडास्वामी (45) को उसकी पत्नी वर्षा (41), उसके पुत्र मेगेन्द्र (17) और उस पुत्री मेलेरिसा की दिसंबर 2013 में उनके घर में हत्या करने के आरोप में तीन बार आजीवन कारावास भुगतने का आदेश सुनाया गया.

कंडास्वामी ने उस समय अपने परिवार का हमला बोल दिया था जब उसे पता चला कि उसकी पत्नी तलाक चाहती है क्योंकि वह किसी अन्य से शादी करना चाहती है.