एक ऐसा देश जहां पत्नियों को पीटना परंपरा है तो पत्नी के लिए है प्यार का प्रतीक

‘द स्टार’ के मुताबिक यहां की 60 वर्षीय महिला एच्युटु सांबा ने बताया कि उनके देश में पत्नी की पिटाई की परंपरा है. वो कहती हैं कि हमें मारपीट की आदत हो गई है, हम इस पर कभी सोचते भी नहीं हैं. कई बार तो पति अपनी पत्नी पर ठंडा पानी भी डाल देता है. उन्होंने बताया कि हम अपने बच्चों को कहानियों में बताते हैं कि उसकी मां, दादी, बुआ, मौसी आदि रिश्तेदारों को उनके पति कैसे पीटते थे?

अफ्रीका के पश्चिमी भाग में स्थित मॉरीतानिया एक गरीब मुस्लिम देश है. यहां का ज्यादातर हिस्सा सहारा रेगिस्तान में आता है. यूं तो कई जनजाति के लोग रहते हैं, लेकिन सभी में पत्नी को पीटने का रिवाज है.

नुआकशोत के सामाजिक कल्याण मंत्रालय में सलाहकार और शोधकर्ता सिदी बोयदा ने बताया कि पत्नियों की पिटाई यहां के सभी जातीय समूह में इस कदर स्वीकार की जा चुकी है कि इसे दूर करना बेहद मुश्किल है. फुलानी जनजाति का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, इस समाज में जो पति जितनी बेरहमी से पिटाई करता है उसकी पत्नी समझती है कि वो उससे उतना ही ज्यादा प्यार करता है. महिलाएं यहां आपसी बातचीत में गर्व से एक दूसरे को बताती हैं कि उसके पति ने किस बुरी तरीके से पिटा है.
जानकारों का कहना है कि यहां की महिलाएं तलाक से बचने के लिए पति के जुल्म को सहती हैं. यहां जो भी महिला पिटाई का विरोध करती हैं उसका पति उसे तलाक दे देता है. यहीं की 25 वर्षीय मरियम जोलो ने बताया कि एक दिन वह टीवी देख रही थीं, तभी उसका पति वहां आया और उसे बेरहमी से पिटने लगा. जब तक वह अधमारा नहीं हो गई वह तब तक पिटता रहा. मरियम बताती है कि इसके बाद भी उसे बुरा नहीं लगा, वह अपने पति से बेहद खुश है.