इस बार अगस्त की जगह जून में होगीं सिविल सेवा के लिए प्रारंभिक परीक्षा | पढें पूरी खबर

संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की ओर से आयोजित की जाने वाली सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा इस साल अगस्त महीने की बजाय 18 जून को होगी.करीब तीन साल के अंतराल के बाद यूपीएससी इस बार प्रारंभिक परीक्षा जून में आयोजित करेगी .

यूपीएससी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 2016, 2015 और 2014 में सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा अगस्त महीने में आयोजित की गई थी. साल 2013 में प्रारंभिक परीक्षा 26 मई को हुई थी. एक आधिकारिक आदेश के मुताबिक, इस साल सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 18 जून को होगी.

आदेश के मुताबिक, इस साल रिक्तियों की संख्या 980 होगी, जिसमें 27 रिक्तियां शारीरिक तौर पर नि:शक्त जन के लिए आरक्षित हैं . हालांकि रिक्तियों की संख्या में थोड़ा बदलाव भी आ सकता है .

आधिकारिक आदेश में कहा गया, ‘‘कैडर नियंत्रण प्राधिकारियों से रिक्तियों की संख्या प्राप्त होने के बाद रिक्तियों की अंतिम संख्या में बदलाव हो सकता है . अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों, अन्य पिछड़े वर्गों और शारीरिक तौर पर नि:शक्त श्रेणियों के अभ्यर्थियों को सरकार की ओर से तय की गई रिक्तियों के संदर्भ में आरक्षण दिया जाएगा .’’ आयोग ने इस साल की सिविल सेवा परीक्षा के लिए नियमों को भी अधिसूचित कर दिया है .

प्रारंभिक परीक्षा के लिए आवेदन प्राप्त करने की आखिरी तारीख 17 मार्च 2017 है . 17 मार्च को शाम छह बजे तक आवेदन प्राप्त किए जाएंगे .

प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले अभ्यर्थियों को अक्तूबर 2017 में संभावित मुख्य परीक्षा में शामिल होने का मौका मिलेगा. अनारक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों के लिए प्रारंभिक परीक्षा में शामिल होने की न्यूनतम उम्र 21 साल जबकि अधिकतम उम्र 32 साल है. ऐसे अभ्यर्थी इस आयु सीमा के बीच अधिकतम छह बार यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा में शामिल हो सकते हैं.