राहुल गांधी अभी मैच्योर नहीं हैं, उन्हें अभी और वक्त दें : शीला दीक्षित

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने एक इंटरव्यू में कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अभी मैच्योर नहीं हुए हैं उन्हें अभी और वक्त दिया जाना चाहिए। यह इंटरव्यू उन्होंने अंग्रेजी के अख़बार टाइम्स ऑफ़ इंडिया को दिया।

इंटरव्यू में शीला दीक्षित ने कहा, “हम बदलाव के दौर से गुजर रहे हैं और पीढ़ी में बदलाव के साथ साथ पिछले कई वर्षों से राजनीति में भी बदलाव आया है।राजनीति में भाषा भी काफी बदल गई है”

राहुल गांधी की तारीफ करते हुए उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष को थोड़ा और वक्त दिया जाना चाहिए। शीला दीक्षित ने कहा, “राहुल में अब काफी बदलाव आया है और उन्होंने राजनीति में काफी कुछ सीखा है। वह बैठक में शामिल होते हैं. सबसे जरूरी बात कि वह बेहद सादगी से अपने दिल की बात बैठक में रखते हैं।”

शीला दीक्षित ने कहा कि पीएम मोदी ने पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के बारे में जो कहा, इसकी हमने कभी उम्मीद भी नहीं की थी। राहुल गांधी की करीबी मानी जाने वाली शीला ने कहा, ‘राहुल गांधी अभी मैच्योर (परिपक्व) नहीं हुए हैं। वह अभी उम्र के… 40वें पड़ाव पर ही हैं। इस उम्र में उनसे पूरी तरह परिपक्व होने की उम्मीद नहीं की जा सकती।’

यूपी चुनाव पर कांग्रेस-सपा गठबंधन के संबंध में शीला ने कहा कि गठबंधन का स्वागत करना चाहिए। अखिलेश की छवि अन्य नेताओं की तुलना में काफी अच्छी है और जनता उन्हें पसंद करती है। शीला ने यह भी उम्मीद जताई कि गठबंधन के कारण मुस्लिम समुदाय का समर्थन मिलेगा।