चुनावी रैली में बोलीं मायावती, अमित शाह से बड़ा कोई कसाब नहीं

उत्तर प्रदेश के अंबेडकरनगर जिले में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के अध्यक्ष अमित शाह के ‘कसाब’ वाले बयान को घटिया करार देते हुए कहा कि आज देश में अमित शाह से बड़ा कोई कसाब नहीं है. गुजरात इसका उदाहरण है.

जिले के सबसे बड़े शिव बाबा मैदान में खचाखच भरी भीड़ को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि आरएसएस के एजेंडे के तहत सपा से अंदरूनी साठ-गांठ कर बीजेपी दलितों-पिछड़ों के आरक्षण को समाप्त करने का कुचक्र कर रही है. ऐसे में दोनों दलों को नकारना होगा.

पांचवें चरण के लिए 27 फरवरी को होने जा रहे विधानसभा चुनाव में जिले की पांचों विधानसभा सीट से बसपा प्रत्याशियों के पक्ष में आयोजित चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा, ‘शिव बाबा मैदान की यह भीड़ इस बात की जमानत है कि यहां से सभी प्रत्याशियों की जीत के साथ सूबे में बसपा की पूर्ण बहुमत की सरकार को अब कोई रोक नहीं सकता.’

दिन में करीब 1:59 बजे मंच पर पहुंचने के बाद दो मिनट तक पहले उन्होंने भीड़ का अभिवादन स्वीकार किया, फिर जब बोलना शुरू किया तो भीड़ का उत्साह बढ़ता गया. करीब 52 मिनट के अपने संबोधन में मायावती ने केंद्र की मोदी और राज्य की अखिलेश सरकार को निशाने पर रखा.

उन्होंने कहा कि दोनों दलों के लोगों ने देश को लूट लिय. काला धन और नोट बंदी को लेकर जहां मोदी को कष्टकारक प्रधानमंत्री बताया. वहीं अखिलेश को कानून व्यवस्था न संभाल पाने वाला मुख्यमंत्री बताते हुए दोनों को सत्ता से उतारने की अपील की.

रैली का संचालन बसपा प्रदेश अध्यक्ष राम अचल राजभर ने किया. मंच पर सभी पांचों प्रत्याशियों सहित कई बड़े नेता मौजूद रहे.