बीजेपी सरकार बने या न बने, चारधाम परियोजना 2018 में पूरी हो जाएगी : गडकरी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने आश्वासन दिया है कि उत्तराखंड में चाहे जो भी पार्टी सत्ता में आए, लेकिन 12000 करोड़ रुपये की चार धाम परियोजना 2018 के आखिर तक पूरी कर ली जाएगी.

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री गडकरी ने राज्य विधानसभा चुनाव जीतने का भी विश्वास व्यक्त किया. बुधवार 15 फरवरी को एक ही चरण में उत्तराखंड विधानसभा चुनाव का हुआ और नतीजा 11 मार्च को घोषित किया जाएगा.

उन्होंने कहा, ‘यह (चारधाम परियोजना) उत्तराखंड के लोगों से किया गया वादा है. प्रधानमंत्री ने यह प्रक्रिया शुरू की है. इसे 2018 के अंत से पहले सही पूरा कर लिया जाएगा.’ उनसे जब पूछा गया कि यदि बीजेपी राज्य में सरकार नहीं बना पाती है तो क्या इस वादे को पूरा किया जाएगा, उन्होंने कहा, ‘हां, इसका राजनीति से कोई लेना देना नहीं है.’

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के मद्देनजर आदर्श आचार संहिता के लागू होने से महज हफ्ते भर पहले मोदी ने सभी मौसमों के अनुकूल इस राजमार्ग की परियोजना-चारधाम महामार्ग विकास परियोजना- की आधारशिला रखी थी जिसका लक्ष्य केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के तीर्थाटन केंद्रों के बीच कनेक्टिविटी में सुधार लाना है.

इस कदम को कांग्रेस ने यह कहते हुए चुनावी स्टंट करार दिया था कि बीजेपी ने बिहार विधानसभा चुनाव से पहले भी ऐसी ही तरकीब अपनायी थी. गडकरी ने यह कहते हुए उसका आरोप खारिज कर दिया था कि इसे राज्य विधानसभा चुनाव के मद्देनजर नहीं किया गया है.