पाकिस्तान : लाहौर असेंबली के बाहर धमाका, DIG और SSP सहित 16 की मौत

लाहौर।… पड़ोसी देश पाकिस्‍तान के लाहौर में पंजाब प्रांत की असेंबली के बाहर सोमवार को एक आत्मघाती विस्फोट में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों समेत 16 लोगों की मौत हो गई. एक विरोध रैली के दौरान एक तालिबान आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया. यह धमाका पुलिसकर्मियों को निशाना बनाकर किया गया.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार लाहौर यातायात पुलिस प्रमुख कैप्टन (रिटायर्ड) मोबीन अहमद और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जाहिद गोंडाल सहित पांच पुलिसकर्मी इस विस्फोट में मारे गए. यह विस्फोट दवा विक्रेताओं की एक विरोध रैली में हुआ.

लाहौर के पुलिस प्रमुख अमीन वैंस ने कहा, ‘उप महानिरीक्षक और वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मोबीन अहमद इस विस्फोट में मारे गए हैं.’ बहरहाल, उन्होंने हताहत हुए दूसरे लोगों के बारे पुष्टि नहीं की है. उन्होंने कहा, ‘फिलहाल मैं अहमद की मौत की पुष्टि कर सकता हूं.’ पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ख्वाजा सलमान रफीक ने कहा कि विस्फोट में 60 से अधिक लोग घायल हो गए, जिनमें 11 की हालत गंभीर है.

धमाका इतना जबरदस्‍त था कि उसकी आवाज कई किलोमीटर दूर तक सुनी गई. लाहौर यातायात पुलिस प्रमुख कैप्टन (सेवानिवृत्त) मोबीन अहमद और लाहौर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जाहिद गोंडाल इस विस्फोट में मारे गए. यह धमाका पुलिसकर्मियों को निशाना बनाकर किया गया. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कम से कम 10 लोग मारे गए और 40 अन्य घायल हो गए. यह धमाका दवा विक्रेताओं की विरोध रैली में हुआ.

प्रतिबंधित आतंकी संगठन तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान से अलग हुए समूह जमात-ए-अहरार ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है. इसी समूह ने पिछले साल 27 मार्च को लाहौर में गुलशन-ए-इकबाल पार्क में हुए विस्फोट की जिम्मेदारी ली थी. ईस्टर के दौरान हुए धमाके में 75 लोग मारे गए थे, जिनमें अधिकांश ईसाई समुदाय के लोग थे.