माओवादियों की उत्तराखंड में एक बार फिर चुनाव बहिष्कार की अपील

नैनीताल जिले के धारी क्षेत्र के बाद संदिग्ध माओवादियों ने शुक्रवार को अल्मोड़ा जिले के सोमेश्वर में दीवारों पर नारे लिखकर जनता से उत्तराखंड में 15 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनावों का बहिष्कार करने की अपील की.

अल्मोड़ा के पुलिस अधीक्षक दिलीप सिंह कंवर ने बताया कि सुबह सोमेश्वर और आसपास के क्षेत्रों में कई स्थानों पर पोस्टर, बैनर और दीवारों पर नारे लिखे पाए गए हैं, जिनमें जनता से चुनावों का बहिष्कार और गृहयुद्ध शुरू करने को कहा गया है.

उन्होंने बताया कि महात्मा गांधी इंटर कॉलेज, चौंदा गांव और कालिका मंदिर के साथ ही चौंदा में अन्य सार्वजनिक स्थानों पर दीवारों पर लाल स्याही से लिखे नारे मिले हैं. कई जगहों पर माओवादियों के नाम से लिखे छपे हुए कागज भी मिले हैं.

कंवर ने बताया कि पोस्टर, बैनर तथा दीवारों पर लिखे नारे मिटाए जा रहे हैं. इस मामले को गंभीर प्रकृति का बताते हुए पुलिस अधिकारी ने कहा कि इससे सख्ती से निपटा जाएगा. स्थिति पर निगरानी के लिए पीएसी की एक टीम मौके पर भेज दी गई है.

गत दो फरवरी को भी संदिग्ध माओवादियों ने नैनीताल जिले के धारी क्षेत्र में एक सरकारी गाड़ी को आग लगा दी थी और पोस्टर, बैनर और दीवारों पर नारे लिखकर उत्तराखंड में होने वाले चुनावों में खलल डालने की धमकी दी थी.

ऐसी घटनाओं के सामने आने के बाद प्रशासन ने पूरे कुमाऊं क्षेत्र में हाई अलर्ट घोषित कर दिया और सुरक्षा बलों की तैनाती बढ़ा दी है.