गाजियाबाद में पीएम मोदी ने अखिलेश से मांगा हिसाब, कहा बाप- चाचा के साथ क्या किया?

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी-फाइल फोटो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज दिल्ली से सटे गाजियाबाद में चुनावी रैली को संबोधित किया. विजय शंखनाद रैली में कहा कि ये चुनाव कौन विधायक बने या कौन नहीं बने इसका निर्णय करने के लिए नहीं, किस स्तर की सरकार बने या न बने इसका फैसला करने के लिए नहीं है. ये चुनाव 14 साल से यूपी में जो विकास का वनवास को समाप्त करने के लिए है. ये चुनाव विकास की धारा बहाने का चुनाव है.

सुरक्षित नहीं बहन-बेटिया
नरेंद्र मोदी ने प्रदेश के मुखिया अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में बहन-बेटियां सुरक्षित नही हैं. पिता, चाचा, बहुओं, भाइयों और भतीजों का क्या-क्या किया, यह उत्तर प्रदेश की जनता जानती है.

लोगों को पांच साल को हिसाब दें अखिलेश यादव
सपा सरकार ने पिछले पांच वर्ष में क्या काम किया, लोगों को उसका हिसाब चाहिए. मोदी ने कहा कि अखिलेश मुझसे हिसाब मांगते हैं, मैं आगामी लोकसभा चुनाव 2019 में समस्त हिसाब दूंगा. अखिलेश पांच वर्ष के कार्यकाल का हिसाब दें, मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश में भी उत्तर नहीं देते तो यूपी को उत्तम प्रदेश कैसे बनाएंगे?

गाजियाबाद की जनता की तारीफ की
मोदी ने गाजियाबाद की जनता का आभार व्यक्त करने के साथ क्षमा मांगते हुए कहा कि इतनी भीड़ है कि मैदान छोटा पड़ गया है. आपको असुविधा हुई उसके लिए क्षमा मांगता हूं. उन्होंने यह भी कहा कि ग्राउंड से दूर जो भीड़ है और अनुशासन से बैठे हैं मैं उनका भी आभारी हूं.

भाजपा के घोषणापत्र के बारे में मोदी ने कहा कि यह पार्टी का संकल्प पत्र होता है. हमने जो वादे किए हैं उनको पूरा करेंगे. केंद्र सरकार ने कई नौकरियों में इंटरव्यू समाप्त कर दिया है, लेकिन इसके बावजूद हमारी बात नहीं मानी गई. दरअसल इसी से भ्रष्टाचार पैदा होता है और अपने-पराए का भेद किया जाता है, इसलिए राज्य से अभी परीक्षाओं में इंटरव्यू की व्यवस्था समाप्त नहीं हुई. जैसे ही राज्य में बीजेपी की सरकार बनेगी, उसके तत्काल बाद नौकरियों में इंटरव्यू की व्यवस्था समाप्त की जाएगी.

पीएम ने अपने भाषण में कहा कि जमीन माफियाओं के खिलाफ स्पेशल टास्क फोर्स बनाएंगे, क्योंकि यह माफिया आम और मध्यम वर्ग लोगों को लूटते हैं. लोगों के साथ बेईमानी करते हैं, जैसा मकान दिखाते हैं, वैसा बनाते नहीं हैं. अब केंद्र सरकार ने रियल सेक्टर क्षेत्र में धोखाधड़ी रोकने के लिए कानून बना दिया है.

फसल बीमा योजना लागू कर किसान को राहत प्रदान करने का काम मोदी सरकार ने किया है. योजना के तहत किसान को नुकसान होने पर मात्र दो प्रतिशत बाकि 98 प्रतिशत का भुगतान सरकार करेगी. प्रदेश की सरकार ने किसानों को दोराहे पर लाकर खड़ा कर दिया. गन्ना किसानो का 22 हजार करोड़ का भुगतान कराने की बात मोदी ने कही. कहा की बीजेपी की सरकार बनते ही पहले दिन किसानो का कर्ज माफ और गन्ना भुगतान कराना मेरी प्राथमिकता में शुमार होगा.

मोदी के निशाने पर रहे अखिलेश और सपा सरकार
अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपी में सत्तासीन समाजवादी पार्टी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि अखिलेश आया तो सोचा नौजवान है. पढ़ा-लिखा है और कुछ अच्छा करने की कोशिश करेगा पर निराश कर दिया. उन्होंने सपा सरकार पर जोरदार हमला करते हुए कहा कि अखिलेश ने तो यूपी का विनाश कर दिया.

नोटबंदी को लेकर विपक्ष पर किया हमला
मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि नोटबंदी के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि कुछ लोग इन दिनों समस्या में हैं, क्योंकि मेरी लड़ाई ब्लैकमनी और भ्रष्टाचार के खिलाफ है. आलम यह है कि इतने दिनों के बाद भी वे अभी भी इसके बारे में बात करते हैं.

मोदी ने कांग्रेस को बताया डूबती नाव
यूपी विधानसभा चुनाव 2017 के मद्देनजर समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के गठबंधन पर मोदी ने जमकर कटाक्ष किया. उन्होंने कहा कि अखिलेशजी इतने डरे हुए हैं कि जो मिला गले लगा लिया. डूबती नाव में कोई पांव रखता है किया? मोदी ने कहा कि स्वार्थ की राजनीति के कारण गरीब को दो जून का खाना भी नहीं मिल सके उसके बाद भी यूपी सरकार को रत्तीभर तकलीफ तक नहीं हो रही है.

बता दें कि इससे पहले प्रधानमंत्री बनने से पहले जिस स्थान मेरठ से नरेंद्र मोदी ने चुनाव के अभियान का आगाज़ किया था वहीं से मोदी विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल बजाया. इस रैली में पीएम मोदी ने जहां सपा सरकार को गुंडागर्दी और पारिवारिक कलह के मुद्दे पर घेरा तो वहीं कांग्रेस को सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाने की वजह से निशाने पर लिया था.

मोदी से मुलायम के परिवारवाद पर हमला करते हुए कहा थि अखिलेश सरकार पारिवारिक झगड़े में ही उलझी रही. पीएम मोदी ने कहा था जब तक उत्तर की जनता उत्तर प्रदेश में से SCAM को खत्म नहीं कर देती तब तक उत्तर प्रदेश का विकास नहीं हो सकता. यूपी में बीजेपी की SCAM के खिलाफ लड़ाई है. S मतलब समाजवादी पार्टी, C मतलब कांग्रेस, A मतलब अखिलेश और M मतलब मायावती.