पीएम मोदी ने लिया भूकंप के बाद हालात का जायजा, PMO उत्तराखंड के संपर्क में

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार रात कहा कि उन्होंने देश के उत्तरी भाग में आए भूकंप के बाद के हालात का जायजा लिया है.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘मैंने उत्तर भारत के विभिन्न भागों में भूकंप आने के बाद के हालात का जायजा लिया और अधिकारियों से बात की.’

उन्होंने ट्वीट किया, ‘पीएमओ (प्रधानमंत्री कार्यालय) भूकंप का केन्द्र रहे उत्तराखंड में अधिकारियों के संपर्क में हैं. मैं सभी की सुरक्षा और कुशल होने की प्रार्थना करता हूं.’ उत्तराखंड में सोमवार रात भूकंप आया, जिसकी रिक्टर पैमाने पर तीव्रता 5.8 थी. भूकंप के झटके दिल्ली और उत्तर भारत के अन्य भागों में भी महसूस किए गए.

एनडीआरएफ हाई अलर्ट पर
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भूकंप पर एक विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. साथ ही, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) को भी हाई अलर्ट पर रखा गया है. राहत कार्य करने और जरूरत पड़ने पर पीड़ितों की मदद करने के लिए एनडीआरएफ को हाई अलर्ट पर रखा गया है.

राजनाथ सिंह ने एक ट्वीट में कहा कि गृह मंत्रालय भूकंप प्रभावित उत्तराखंड और उत्तर भारत के अन्य राज्यों में हालात का करीबी निगरानी कर रहा है, जहां भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं.

उन्होंने कहा, ‘राहत एवं बचाव अभियान के लिए एनडीआरएफ की टीमें गाजियाबाद से उत्तराखंड भेजी गई हैं.’ गृह मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने बताया कि गृह मंत्री ने एक विस्तृत रिपोर्ट मांगी है और एनडीआरएफ को हाई अलर्ट पर रखा गया है.

एनडीआरएफ के महानिदेशक आर के. पचनंदा ने पीटीआई भाषा को बताया कि करीब 90 सदस्यों वाली एनडीआरएफ की दो टीमें गाजियाबाद स्थित अपने ठिकाने से रुद्रप्रयाग भेजी गई हैं.

उन्होंने बताया कि उत्तराखंड सरकार से मिली शुरुआती खबरों से किसी तरह के नुकसान के संकेत नहीं मिले हैं लेकिन आकस्मिक कदम के तहत राहत एवं बचाव टीमें लामबंद की गई हैं. उन्होंने बताया कि एक और टीम तैयार रखी गई है और उसकी रवानगी हालात पर निर्भर है.