कैलाश सत्यार्थी के घर चोरी, नकद-जेवर के साथ नोबेल पुरस्कार भी ले उड़े चोर

नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी के घर चोरी का मामला सामने आया है. दूसरे सामान के साथ चोर नोबेल पुरस्कार की रेप्लिका भी ले गए. उनके कालकाजी इलाके में बने अरावली अपार्टमेंट में चोरी हुई. उनके एनजीओ से ‘बचपन बचाओ आंदोलन’ से जुड़े राकेश सेंगर ने बताया कि सुबह करीब 9 बजे जब वह किसी काम से कैलाश के घर पहुंचे तो देखा कि एक धोबी बार-बार दरवाजे की घंटी बजा रहा है. इस पर राकेश ने कहा कि वह तो बाहर गए हैं, घंटी क्यों बजा रहे हो. इतने में राकेश की नजर ताले पर पड़ी, जो टूटा हुआ था.

राकेश ने जब घर के अंदर जाकर देखा तो पाया कि घर में सामान बिखरा पड़ा है और घर से महंगा सामान गायब है. सबसे बड़ी बात यह है कि कैलाश को मिले नोबेल पुरस्कार का रेप्लिका भी गायब है. दरअसल, नोबेल पुरस्कार मिलने के बाद कैलाश ने ओरिजनल पुरस्कार राष्ट्रपति भवन में जमा कर दिया था. उनका कहना था कि वह इसे देश के नाम समर्पित कर रहे हैं. जबकि अवार्ड में मिली रेप्लिका वह अपने घर ले आए थे.

राकेश ने फौरन यह जानकरी पुलिस को दी. पुलिस ने फोरेंसिक एक्सपर्ट के साथ मामले की जांच शुरू कर दी है. घर के आसपास सीसीटीवी कैमरे लगे हैं और वहां सिक्योरिटी गार्ड भी होता है, लेकिन इसके बावजूद चोर घर के अंदर दाखिल हो गए.

कैलाश फिलहाल एक कार्यकम में हिस्सा लेने के लिए लैटिन अमेरिका के बोगोटा शहर गए हैं. उनके एनजीओ से जुड़े लोगों के मुताबिक, कैलाश को सुरक्षा देनी चाहिए, अगर घर पर सुरक्षा होती तो यह घटना न होती.