क्या आपका भी मन है ‘कैलाश मानसरोवर यात्रा’ पर जाने का तो यह लीजिये यात्रा की पूरी जानकारी!

विदेश मंत्रालय द्वारा आयोजित कैलाश-मानसरोवर यात्रा का पंजीकरण 01 फरवरी, 2017 से शुरू हो गया है। इस वर्ष यात्रा 12 जून से 8 सितंबर तक चलेगी और दो रास्तों से होकर गुजरेगी। 01 जनवरी, 2017 तक यात्रा के आवेदनकर्ताओ की न्यूनतम आयु 18 वर्ष से कम और 70 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। पंजीकरण की अंतिम तिथि 15 मार्च, 2017 है।

इस यात्रा के दो रास्तें है। पहला रास्ता उत्तराखंड के लिपूलेख दर्रे से गुजरता है। इस रास्ते से की जाने वाली यात्रा का खर्च प्रति व्यक्ति लगभग 1.6 लाख रुपए है। यह यात्रा 18 दलों में होती है और प्रत्येक दल में 60 तीर्थ यात्री होते है। यात्रा की अवधि 24 दिनों की है, जिनमें तीन दिन दिल्ली में लगते है ताकि शुरूआती तैयारी की जा सके। प्रत्येक दल 24-24 दिनों में गंतव्य तक पहुंचता है। इस रास्ते से होने वाली यात्रा नारायण आश्रम और पाताल भुवनेश्वर जैसे प्रमुख स्थानों से गुजरती है। तीर्थ यात्री छियालेख घाटी या ‘ओम पर्वत’ के भी दर्शन कर सकते है।

दूसरा रास्ता सिक्किम स्थित नाथुला दर्रे से होकर गुजरता है। इस रास्ते पर वाहन चल सकते हैं और जो वरिष्ठ नागरिक पैदल नहीं जा सकते, उनके लिए यह रास्ता बहुत उपयुक्त है। गंगटोक से होता हुआ यह रास्ता प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर हंगू लेक और विशाल तिब्बती पठार से गुजरता है। यह यात्रा 21 दिनों में पूरी होती है, जिनमें शुरूआती तैयारी के लिए तीन दिन दिल्ली के भी शामिल हैं। इस यात्रा में प्रति व्यक्ति लगभग 2 लाख रुपए खर्च बैठता है। इस वर्ष 50-50 तीर्थ यात्रियों के आठ दल इस मार्ग से यात्रा करेंगे।

पिछले वर्ष की तरह इस बार भी पहली बार यात्रा पर जाने वाले आवेदनकर्ता, चिकित्सक और विवाहित दंपतियों को प्राथमिकता दी जाएगी। वरिष्ठ नागरिकों के लिए नाथुला मार्ग ज्यादा उपयुक्त है। चार व्यक्ति एक साथ यात्रा के लिए आवेदन कर सकते है। यात्रीगण दोनों मार्गों का चयन कर सकते है, जिनमें एक मार्ग को प्राथमिकता देनी होगी। उनके मार्ग और दल का आवंटन कम्प्यूटर द्वारा लॉटरी से होगा।

भारत सरकार द्वारा डिजिटलीकरण को प्रोत्साहन देने के मद्देनजर यात्रा का पंजीकरण पूरी तरह ऑनलाइन किया जा रहा है, जिसके लिए वेबसाइट http://kmy.gov.in का उपयोग किया जा सकता है। यात्रियों को पासपोर्ट का फोटो वाला पेज, जिस पर व्यक्ति की पूरी जानकारी लिखी होती है और अंतिम पेज जहां पता लिखा होता है, उसे अपलोड करना होगा। उसके अलावा ताजा फोटो को भी अपलोड करना है। ऑनलाइन फॉर्म के दिशा-निर्देश हिन्दी और अंग्रेजी भाषा में उपलब्ध हैं और अधूरे फॉर्म अंतिम तारीख के बाद अपने आप निरस्त हो जाएंगे।

आवेदनकर्ताओं को कम्प्यूटर द्वारा संचालित चयन प्रणाली से चुना जाएगा और इसकी सूचना ई-मेल या एसएमएस द्वारा दी जाएगी। चुने जाने के बाद आवेदकों को वेबसाइट पर दिए गए विवरण के अनुसार एक निश्चित शुल्क देना होगा। आवेदक हेल्पलाइन नंबर 011-24300655 पर भी सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।