दिल्ली मे लालकिले के अन्दर मिले विस्फोटक और कारतूस के ढेर और हैंड ग्रेनेड

दिल्ली में सोमवार की सुबह करीब 8 बजकर 40 मिनट पर उस समय हड़कंप मच गया जब दिल्ली पुलिस ने फायर विभाग को बताया कि लाल किले पर कुछ संदिग्ध सामान मिला है. आनन-फानन में दमकल की आठ गाड़ियां मौके पर भेजी गईं. जांच के लिए एनएसजी, आर्मी को भी बुलाया गया.

दरअसल भारतीय पुरातत्व विभाग की एक टीम यहां पहले से खुदाई कर रही थी और खुदाई के दौरान उसे शनिवार की शाम एक कुंए में कुछ संदिग्ध सामान दिखा जिसके बाद यह कार्रवाई हुई. जांच में पता चला कि यह कुछ पुराने विस्फोटक और कारतूस हैं, जो सेना के हो सकते हैं, क्योंकि 2004 के पहले यहां सेना रहा करती थी. फिलहाल विस्फोटक और कारतूस जब्त कर जांच के लिए भेज दिए गए हैं.

इससे पूर्व दिल्ली के ही नेहरू प्लेस से खबर आई थी कि यहां पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई. इस मुठभेड़ में 25 हजार का ईनामी बदमाश अकबर गिरफ्तार हुआ जबकि उसके साथी भागने में कामयाब रहे. पुलिस उपायुक्त रोमिल बानिया ने बताया कि बदमाशों ने गिरफ्तारी से बचने के लिए गोलियां चलाई, जिसके बाद पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की. दोनों तरफ से 13 राउंड गोलियां चलीं.

अधिकारी ने बताया कि अकबर कुख्यात लुटेरा और झपटमार था. वह चोरी, लूट, चेन झपटमारी और हत्या के प्रयास में वांटेड था. अकबर पर दक्षिण दिल्ली के पुल प्रह्लादपुर में 2016 में हुए शूटआउट के बाद 25,000 रुपये का ईनाम रखा हुआ था.