इस बार चुनावों में प्रसाशन की रहेगी पैनी नजर, बूथों पर होंगे माइक्रो आब्जर्वर तैनात

विधानसभा निर्वाचन को सफलतापूर्वक सम्पन्न कराने एवं मतदान दिवस की गतिविधियों पर पैनी नजर रखने हेतु संवेदनशील एवं अति संवेदशील बूथों पर माइक्रो आब्जर्वर की तैनाती की जायेगी, जिनको शनिवार को एमबीपीजी कालेज में जिला निर्वाचन अधिकारी दीपक रावत एवं सामन्य प्रेक्षकों पंकज अग्रवाल, का0 बालचन्द्रन एवं सुखविन्दर सिंह व मास्टर ट्रेनर द्वारा सैद्धान्तिक एवं व्यवहारिक प्रशिक्षण दिया गया।

जिला निर्वाचन अधिकारी दीपक रावत ने कहा कि सभी माइक्रों आब्जर्वर अपने-अपने बूथों पर पैनी नजर रखेंगे तथा बूथ पर हो रही प्रत्येक गतिविधियों पर नजर रखते हुए उसे अपने प्रपत्रों में भी अंकित करना सुनिश्चित करें। उन्होनें कहा कि माइक्रो आब्जर्वर मतदान पार्टी न होकर मतदान प्रक्रिया पर नजर रखने हेतु तैनात किये जा रहे हैं, जो अपनी रिपोर्ट सामन्य आब्जर्वर के साथ ही उन्हें भी देना सुनिश्चित करेंगे। सभी माइक्रो आर्ब्जवर ईवीएम एवं वीवीपैट मशीन का प्रशिक्षण लें लें ताकि जरूरत पडने पर मतदान पार्टियों की मदद की जा सके। उन्होने कहा कि मतदान स्थल के भीतरं एक समय मे प्रत्याशी का एक ही एजेन्ट रहेगा, तथा मतदान स्थल केन्द्र से 100 मीटर की परिधि में किसी प्रकार की प्रचार सामग्री पूर्ण प्रतिबन्धित रहेगी, साथ पार्टी/प्रत्याशियों के टेबल बस्ते भी 100 मीटर की परिधि से बाहर रहेंगे। सभी बूथो में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था की गयी है। सभी माइक्रो आर्ब्जवर अपने प्रपत्रों को सतर्कता से भरे।

सामान्य प्रेक्षक पंकज अग्रवाल ने माइक्रो आब्जर्वरों को प्रशिक्षण में सम्बोधित करते हुये कहा कि सभी माइक्रो आब्जर्वर कार्य को बडी सहजता, प्रसन्ता एवं कर्मठता से करें। उन्होनें कहा कि प्रजातन्त्र को प्रगाढ़ बनाने में अपनी अह्म भूमिका निभाएं। उन्होनें कहा कि सभी माइक्रो आब्जर्वर को मतदान दिवस पर उनको आवंटित बूथ की प्रत्येक गतिविधियों की सूचना की सूचना देना है। उन्होनें कहा कि माइक्रो आब्जर्वर का कार्य मतदान प्रक्रिया पर नजर रखना है, अनावश्यक रूप से मतदान पार्टी के कार्यों में हस्तक्षेप न करें, अपितु सहयोग की भावना से कार्य करें। प्रेक्षक ने कहा कि प्रातः मॉकपोल, मतदान प्रारम्भ होने के साथ ही बूथ एवं उसके आसपास की हो रही गतिविधियों व मतदान समाप्ति 05 बजे के समय बूथ पर लगी कतार में मतदाताओं की संख्या का अंकन भी प्रपत्रों में अनिवार्य रूप से करें।

मास्टर ट्रेनर डा0 महेश कुमार एवं अनुराग अग्रवाल ने सभी माइक्रो आब्जर्वर को निर्वाचन सम्बन्धी विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि जो भी जिज्ञासाएं है, उनका समाधान अवश्य कर लें, ताकि मतदान के समय किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पडे। उन्होनें कहा कि प्रशिक्षण के उपरान्त सभी माइक्रो आब्जर्वर प्रशिक्षण का प्रमाण-पत्र भी देना सुनिश्चित करेंगे।