नैनीताल : जिले में माओवादी धमक, सरकारी वाहन फूंका | चुनाव प्रक्रिया को बाधित करने की धमकी

संदिग्ध माओवादियों ने उत्तराखंड में 15 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनावों को बाधित करने की धमकी देते हुए गुरुवार तड़के नैनीताल जिले में धारी के पास एक सरकारी वाहन में आग लगा दी, पूरे क्षेत्र में अपने पोस्टर चिपका दिए तथा दीवारों पर नारे लिखे.

इस घटनाक्रम से हरकत में आए प्रशासन ने पूरे कुमाऊं क्षेत्र में अलर्ट घोषित करते हुए वहां सुरक्षा बलों की तैनाती भी बढ़ा दी.

नैनीताल के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जन्मेजय खंडूरी ने बताया कि जली हुई कार के पास से बरामद एक पर्चे में जनता से जनयुद्ध तेज करने को कहा गया है. उन्होंने बताया कि जलायी गई कार तहसीलदार की थी.

पर्चे पर विजय पाहरू का नाम लिखा है और उसने अपना परिचय भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के सचिव के रूप में दिया है. क्षेत्र की दीवारों पर चुनाव प्रक्रिया को बाधित करने की धमकी भरे मिलते-जुलते संदेशों के साथ नारे भी लिखे हुए हैं.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह घटना बुधवार और गुरुवार की मध्यरात्रि में ढ़ाई बजे के आसपास हुई. उन्होंने बताया कि सभी पोस्टरों और पर्चों को हटा दिया गया है और दीवार पर लगे संदेशों को मिटा दिया गया है.

खंडूरी ने कहा कि धारी क्षेत्र में कड़ी निगरानी रखने के लिए पीएसी की एक कंपनी और 15 पुलिस कांस्टेबलों को तैनात किया गया है, जिससे किसी भी अप्रिय घटना की आशंका को टाला जा सके. इस घटना के बाद पूरे कुमाऊं क्षेत्र में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है.