चुनावी समर में गढ़ सम्राट नरेंद्र सिंह नेगी ने अपनी इस पोस्ट से मचा दी हलचल

‘नौछमी नारायण’ और ‘कमीशन कु मीट भात’ जैसे गीतों से उत्तराखंड की राजनीति में हलचल मचाने वाले लोक गायक नरेंद्र सिंह नेगी की राजनीति पर प्रहार करती फेसबुक पर की गई एक पोस्ट फिर चर्चा में है. नेगी की इस पोस्ट को लोगों ने हाथोंहाथ लिया है. पोस्ट पर ताबड़तोड़ कमेंट्स आ रहे हैं.

नेगी दा पहले ही कह चुके थे कि इस बार वह राजनीति पर कोई गीत नहीं बनाएंगे. इन गीतों का एक-दूसरे राजनीतिक दलों द्वारा सियासी इस्तेमाल किया जाता है. जिसकी वजह से वह इस चुनाव में अब तक दूरी बनाए हुए थे. लेकिन लगता है नेगी दा के अंदर का गायक प्रदेश के मौजूदा हालातों को देखकर चुप नहीं बैठ सका.

अबकी उन्होंने फेसबुक पोस्ट के जरिए राजनीति पर कटाक्ष किया है. नेगी दा के आधिकारिक फेसबुक पेज की इस पोस्ट में राज्य में दलबदल और 16 साल के हालात भी बयां किए गए हैं. तो कुछ अन्य पोस्ट नेताओं और माफिया के गठबंधन पर भी कटाक्ष करती हैं. यही नहीं उन्होंने प्रदेश की सत्ता में रहे दो प्रमुख दलों पर निशाना साधा है.

**उत्तराखंडे सूण**
तन्नी तान तन्नि तून
तन्नि ढेबरि तन्नि ऊन
तेरिभि सुणला खैरि
पैलि उतराखण्डै सूण ।
उतराखण्डै सुण रे दाज्यु उ0ख0सूण।
सोळा सालो ह्वेगे राज
सात राजोन पैर्याली ताज
कातिल घुमणा अजाद
राजों थै सरम न लाज
हर साल औन्दन माळा टंगणू
अजिभि न्योनिसाब मंगणू
शहीदू को खून ।
तन्नि तान- – – –
छोटा राज का बडा सबाल
हडताळ्यूँकि नि बुझि मसाल
बिमार लाचार अस्पताळ
स्कुलूको चक्रचाळ
राजधानि बल टंगीं रालि
आधा गैरसैण आधा देरादूण जालि
तन्नि तान ——–
तन्नि ढेबरी तनी ऊन
तेरि भि खैरि सुणला पैलि
उतराखण्डै सूण ।
उतराखण्डै सुण रे भैजि उतराखण्डै सूण ——
दारू खनन भूमाफ्योंकी
बारामासी बग्वाळ यख
अफसर नेतौंकि दाज्यू
पट्ट बोटीं अंग्वाळ यख
भ्रष्टाचारै बास नि ऐ
लोकायुक्त रास नि ऐ डौर कैकि हूण
तन्निले तान ————-
तन्नि ढेबरि तन्नि ऊन
तेरिभि सुणला दाजु
पैलि उतराखण्डै सूण ।
उतराखण्डै सूण
काँग्रेस बल नौ की रैगे
भाजप्पा काँग्रेस ह्वेगे
थोरि थोरडा बागि ह्वेगिनी
कख भेजिछा कख पौंछिनी
नेता सौदाबाजिम् ब्यस्त
जनता डैनिस प्येकि मस्त
भल्यार कनै हूण ।
तन्निले तान तनी तून-
तनि ढेबरी तन्नी ऊन
तेरि भि सुणला दाजू पैलि
उतराखण्डै सूण ।
रचनाकार लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी