पीएम मोदी का राष्ट्र के नाम संदेश : गरीब, किसान, बुजुर्गों व महिलाओं के लिए खोला पिटारा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नए साल की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को संबोधित किया. मोदी ने अपने इस संबोधन ने गरीबों के लिए अपना पिटारा खोल दिया.

  • दिवाली के बाद देश एतिहासिक स्वच्छ यज्ञ का गवाह बना.
  • देशवासियों ने उज्ज्वल भविष्य की आधारशिला रखी.
  • देश ने दिखाया गरीबी से लड़ने के लिए क्या कर सकते हैं.
  • निम्न-मध्य वर्ग को ध्यान में रखकर काम करें बैंक.
  • नोटबंदी के बाद गंभीर कुछ लोगों के गंभीर अपराध सामने आए.
  • नोटबंदी के बाद गंभीर अपराध करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा.
  • सरकार का ध्येय : सबका साथ, सबका विकास.
  • प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीब वर्गों के लिए दो नई स्कीमें.
  • शहरों में घर बनाने के लिए 9 लाख तक के कर्ज पर ब्याज में 4 फीसदी छूट.
  • शहरों में 12 लाख तक के कर्ज पर 3 फीसदी की छूट मिलेगी.
  • गांवों में 33 फीसदी ज्यादा घर बनाए जाएंगे.
  • गांवों में मकान बनाने या रिनोवेशन और एक्सपेंशन के लिए 2 लाख तक के कर्ज पर ब्याज में 3 फीसदी की छूट.
  • रबी और खरीब की फसल के लिए कर्ज पर दो महीने का ब्याज सरकार देगी.
  • रबी की बुआवी में 6 फीसदीी की बढ़ोतरी.
  • रबी और खरीफ फसल के लिए लिए गए कर्ज का 2 महीने का व्याज सरकार देगी.
  • अगले तीन महीने में 3 करोड़ किसान क्रेडिट कार्ड रूपे कार्ड में बदले जाएंगे, एटीएम से निकासी संभव.
  • छोटे कारोबारियों के लिए क्रेडिट गारंटी 1 करोड़ से बढ़ाकर 2 करोड़.
  • गर्भवती महिलाओं के लिए 6 हजार रुपये की आर्थिक मदद.