मुलायम सिंह ने अपने बेटे मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को सपा से निकाला

विधानसभा चुनाव से ठीक पहले समाजवादी पार्टी (सपा) में चल रहे अंतर्कलह ने नया मोड़ ले लिया और सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने शुक्रवार को लखनऊ में एक संवाददाता सम्मेलन कर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और पार्टी के राज्यसभा सदस्य रामगोपाल यादव को निष्कासित करने की घोषणा कर दी.

मुलायम ने कहा, ‘अखिलेश ने अनुशासनहीनता की इसलिए पार्टी से निकाला. रामगोपाल यादव अखिलेश का भविष्य खत्म कर रहे हैं और अखिलेश उनकी चाल समझ नहीं पा रहे. उन्होंने जानबूझकर एसी स्थिति पैदा की. उन्होंने पार्टी अध्यक्ष पर हमला किया.’

उन्होंने आगे कहा, ‘रामगोपाल की तरफ से बुलाया गया पार्टी सम्मेलन असंवैधानिक है. सम्मेलन बुलाने के लिए एक दिन नहीं, कम से कम 15 दिन चाहिए. रामगोपाल को और कड़ी सजा दी जाएगी.’ सपा मुखिया ने पार्टी कार्यकर्ताओं से रामगोपाल द्वारा बुलाई गई पार्टी की आपात सम्मेलन में शामिल न होने की अपील भी की.

गौरतलब है कि मुलायम सिंह ने विधानसभा 2017 के लिए पहले 325 की सूची जारी की थी. इस सूची में अखिलेश के करीबियों का टिकट काट दिया गया था. इसके बाद अखिलेश ने भी बगावती सुर अपनाते हुए गुरुवार की देर रात 235 प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी थी. नाटकीय घटनाक्रम में गुरुवार की ही देर रात शिवपाल यादव ने 68 प्रत्याशियों की दूसरी सूची भी जारी कर दी.