नजीब जंग का इस्तीफा मंजूर, अब अनिल बैजल होंगे दिल्ली के उपराज्यपाल

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने दिल्ली के उपराज्यपाल पद से नजीब जंग का इस्तीफा मंजूर कर लिया है. दिल्ली के अगले उपराज्यपाल कौन होंगे इस रेस में कई नाम सामने आए थे, लेकिन दिल्ली के पूर्व गृह सचिव अनिल बैजल ने इस रेस में बाजी मारी. बैजल ही दिल्ली के अगले उप राज्यपाल (एलजी) बनने जा रहे हैं. प्रधानमंत्री कार्यालय के मुताबिक अनिल बैजल की फाइल राष्ट्रपति के पास भेज दी गई है.

बैजल 1969 बैच के यूटी कैडर से आईएएस अफसर हैं और अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के दौरान केंद्रीय गृह सचिव रह चुके हैं. तब की सरकार में गृह सचिव के अलावा बैजल कई अहम पदों पर कार्यरत रहे थे.

बैजल सन 2006 में शहरी विकास मंत्रालय के सचिव पद से रिटायर हुए थे. इसके बाद वे विवेकानंद इंटरनेशनल फाउंडेशन की कार्यकारिणी समिति के सदस्य रहे. इस संस्थान से पहले भी कई सदस्यों को सीनियर पदों पर लाया जा चुका है. राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बनने से पहले अजीत डोभाल भी इस समिति के सदस्य रह चुके हैं. बैजल एयर इंडिया के सीएमडी और प्रसार भारती के सीईओ के पद पर भी रह चुके हैं.

एलजी का पद नजीब जंग के इस्तीफे के बाद से खाली हुआ है. गृह मंत्रालय के मुताबिक जंग ने इस्तीफा क्यों दिया, यह साफ नहीं हो पाया. हालांकि खुद जंग का कहना है कि उन्होंने यह फैसला निजी कारणों से लिया है. इस्तीफा देने के बाद जंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की गैर मौजूदगी के चलते उनसे उप राज्यपाल पद पर बने रहने को कहा गया था.

अपने 37 साल के करियर में गोवा के डिवेलपमेंट कमिश्नर और नेपाल में भारत के सहयोग कार्यक्रम के काउंसलर जैसे कई अहम पदों पर रहे. वह भारती कारपोरेशन के चीफ ऐग्जिक्युटिव भी रह चुके हैं. उन्होंने इलाहाबाद विश्वविद्यालय और ईस्ट एंगिला यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है.