कांग्रेस पार्टी के स्थापना दिवस पर राहुल गाँधी ने मोदी पर “इकबाल के शब्दों में” पूछा- आपको नोटबंदी की सलाह किसने दी

कांग्रेस पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर आज पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इस मौके पर राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का इतिहास एक विचार और एक आंदोलन का इतिहास है.

उन्होंने कहा कि हमारी इस यात्रा का क्या मकसद है? इकबाल के शब्दों में,
“सितारों के आगे जहां और भी हैं,
अभी इश्क़ के इम्तिहां और भी हैं”

गांधी ने कहा कि कांग्रेस का भारत से, भारत के लोगों से सांझे दर्द का रिश्ता है, हमारे दर्द सांझे हैं, हमारे सपने सांझे हैं, हमारी भाग्य सांझा है.

विमुद्रीकरण पर बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा है कि डिमोनेटाइजेशन का यज्ञ 50 परिवारों और एक प्रतिशत सुपर रिच लोगों के लिए किया जा रहा है और इस यज्ञ में हिन्दुस्तान के गरीबों, किसानों, मजदूरों, मिडिल क्लास और छोटे दुकानदारों की बलि चढ़ाई जा रही है.

इस मौके पर राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी लोगों में डर की भावना पैदा कर रहे हैं, नोटबंदी एक उदाहरण है. साथ ही उन्होंने कहा, ‘पीएम मोदी को देश को बताना चाहिए कि कितना काला धन अब तक आया.’ इसके साथ ही राहुल गांधी ने पीएम मोदी से पूछा कि नोटबंदी की सलाह उन्हें किसने दी.

राहुल गांधी ने कहा, कांग्रेस जनता के साथ खड़ी होगी और ‘‘गुस्सा’’ और ‘‘घृणा’’ फैलाने वाली नरेंद्र मोदी तथा आरएसएस की विचारधारा को परास्त करेगी.

राहुल गांधी ने कांग्रेस स्थापना दिवस कार्यक्रम में कहा, सरकार उन लोगों की सूची सामने लाए जिन्होंने नोटबंदी से पहले अपने बैंक खाते में 25 लाख से ज्यादा रुपये जमा किए हैं. राहुल गांधी ने कहा, सरकार धन की निकासी पर लगाई गई तमाम रोक तत्काल हटाए.

राहुल गांधी ने कहा, कांग्रेस जनता के साथ खड़ी होगी और ‘‘गुस्सा’’ और ‘‘घृणा’’ फैलाने वाली नरेंद्र मोदी तथा आरएसएस की विचारधारा को परास्त करेगी. राहुल गांधी ने कांग्रेस स्थापना दिवस कार्यक्रम में कहा, सरकार उन लोगों की सूची सामने लाए जिन्होंने नोटबंदी से पहले अपने बैंक खाते में 25 लाख से ज्यादा रुपये जमा किए हैं. राहुल गांधी ने कहा, सरकार धन की निकासी पर लगाई गई तमाम रोक तत्काल हटाए.