विकास कार्यों के लिए बजट को लेकर भ्रम न फैलाएं अधिकारी : डीएम रुद्रप्रयाग

रुद्रप्रयाग की जिलाधिकारी रंजना वर्मा ने केदारघाटी में आपदा पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण कर निर्माण कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं. जिला स्तरीय अधिकारियों के साथ डीएम रंजना वर्मा ने सिल्ली, विजयनगर, चन्द्रापुरी, सेमी, सोनप्रयाग और गौरीकुंड में निर्माणाधीन पुलों, सुरक्षा दीवारों और सड़कों का निरीक्षण किया.

इस दौरान क्षेत्रीय जनता ने लम्बे समय से रुके पुलों को लेकर शिकायत की, जिस पर जिलाधिकारी ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि अधिकारी बजट को लेकर अनावश्यक भ्रम न फैलाएं. उन्होंने दो माह के भीतर पुलों पर आवागमन संचालन कराने के निर्देश दिए.

जिलाधिकारी ने कहा कि विधानसभा चुनाओं में भी विकास कार्य तेजी से चलेंगे, जिससे अगले वर्ष की यात्रा शुरू होने से पूर्व सभी व्वस्थाएं दुरुस्त हो सकें. जिलाधिकारी ने निर्माण की धीमी प्रगति पर तथा राजमार्ग के कई जगहों पर क्षतिग्रस्त बने होने पर अधिकारियों को फटकार भी लगाई.

गौरीकुंड के निवासियों की मांग पर डीएम ने गौरीकुंड तक नियमित बस सेवा संचालन के लिए राजमार्ग विभाग और केदारनाथ विकास प्राधिकरण को सड़क ठीक करने के साथ ही बसों का संचालन करने के निर्देश दिए.
उन्होंने कहा कि सुरक्षा दीवारों का कार्य धीमी गति से चल रहा है, जिस पर सिंचाई विभाग को शीध्र ही गौरीकुंड कस्बे सहित अन्य स्थानों पर भी कार्य में तेजी लाने की बात कही.

जिलाधिकारी ने सोनप्रयाग वाया डक्ट परियोजना की भी विस्तृत जानकारी ली और पार्किंग समेत अन्य निमार्ण कार्यों को समय रहते पूर्ण करने के सख्त निर्देश दिए.