नोटबंदी : ‘मोदी ही बताएं, 50 दिन बाद उन्हें किस चौराहे पर सजा दी जाए’

नोटबंदी को लेकर केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लगातार निशाना साध रहे राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने पटना में सोमवार को भी हमला जारी रखा.

उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी से पूछा कि 50 दिन के बाद किस चौराहे पर उनको सजा दी जानी चाहिए? पटना में नोटबंदी के खिलाफ 28 दिसंबर को आरजेडी के महाधरना कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए प्रचार वाहनों को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने के बाद संवाददाताओं से चर्चा करते हुए लालू ने कहा, ‘नोटबंदी के बाद प्रधानमंत्री ने कहा था कि 50 दिनों में स्थिति नहीं सुधरी तब चौराहे पर जो सजा दी जाएगी वह कबूल करेंगे.’

पीएम मोदी ने 13 नवम्बर को गोवा में एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि 50 दिनों में स्थिति नहीं सुधरी तो उन्हें जो भी सजा दी जाएगी, वह उसे स्वीकार करेंगे. आरजेडी नेता ने कहा कि अब उन्हें बताना चाहिए कि किस चौराहे पर उनको सजा दी जानी चाहिए?

पूर्व केंद्रीय मंत्री लालू प्रसाद ने शिवसेना के बयान का समर्थन करते हुए कहा कि शिवसेना ने उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर बिल्कुल सही बयान दिया है. शिवसेना ने बीजेपी को नसीहत देते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर बीजेपी मदमस्त हाथी नहीं बने. उत्तर प्रदेश का इतिहास रहा है कि जब-जब सत्ताधारी मस्ती में आए हैं तो जनता ने तब-तब उन्हें सिंहासन से उतार फेंका है.

लालू ने कहा, ‘शिवसेना ठीक कह रही है. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी फिर विजयी होगी और बीजेपी राज्य में कहीं नहीं दिखेगी.’ उल्लेखनीय है कि नोटबंदी के विरोध में आरजेडी ने राज्य के सभी जिला मुख्यालयों में 28 दिसंबर को महाधरना देने की घोषणा की है.