3600 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले शिवाजी महाराज के स्मारक का शिलान्यास करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी

पीएम नरेंद्र मोदी आज महाराष्ट्र दौरे पर हैं. इस दौरान पीएम शिवाजी महाराज के भव्य स्मारक का शिलान्यास करेंगे. अरब सागर में बनने वाले 192 मीटर लंबे इस स्मारक की लागत क़रीब 3,600 करोड़ रुपये आंकी गई है.

सीएम देवेंद्र फडणवीस का दावा है कि ये स्मारक भारत का ही नहीं दुनिया का सबसे लंबा स्मारक होगा. हालांकि हज़ारों करोड़ की लागत से बनने वाले इस स्मारक का मुंबई का मछुआरा वर्ग विरोध कर रहा है. इन लोगों का कहना है कि इससे पर्यावरण पर बुरा असर पड़ेगा. साथ ही उनलोगों की जीविका पर भी असर पड़ेगा.

शिवाजी महाराज के स्मारक के साथ-साथ पीएम मोदी बांद्रा कुर्ला कॉम्पलेक्स में मुंबई और पुणे मेट्रो के कई दूसरे प्रोजेक्ट्स का भी शिलान्यास करेंगे. पीएम एमएमआरडीए ग्राउंड पर आयोजित सभा को भी संबोधित करेंगे. इस दौरान शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे पीएम के साथ मंच साझा करेंगे.

साढ़े तीन हजार करोड़ रुपये की लागत से बनने जा रहे छत्रपति शिवाजी मेमोरियल का विवाद ख़त्म नहीं हो रहा है. मुम्बई के नरीमन पॉइंट इलाके से आगे अरब सागर में 3 किलोमीटर अंदर बनने वाले इस निर्माण पर मछुआरों ने आपत्ति जताई है.

मछुआरों के नेता दामोदर तांडेल ने कहा है कि शिवस्मारक के निर्माण से मछुआरे मछली पकड़ने पानी में नहीं जा सकेंगे.
उधर, पर्यावरणविद प्रदीप पाताड़े का कहना है कि, समुद्र में होने जा रहे इस निर्माण से मुम्बई की गिरगाव चौपाटी ख़त्म हो सकती है. साथ ही, इससे समुद्री पर्यावरण को गंभीर खतरा पैदा होगा.