अल्मोड़ा में राहुल गांधी ने ‘बशीर बद्र’ के अंदाज में मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, नोटबंदी आर्थिक डकैती है

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी :फाइल फोटो

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार को अल्मोड़ा में जन सभा को संबोधित करने पहुंचे. इस दौरान उनके साथ मंच पर उत्तराखंड मुख्यमंत्री हरीश रावत, अंबिका सोनी, विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल, प्रदेश के वन और खेल मंत्री दिनेश अग्रवाल समेत कई वरिष्ठ नेता मौजूद थे.

अल्मोड़ा के एसएसजे परिसर मैदान में यह रैली शुरू हुई. कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी हेलीकॉप्टर से दोहपर एक बजे सेना के मैदान में पहुंचे. यहां से राहुल गांधी कार से रैली स्थल तक पहुंचे.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर पीएम मोदी पर एक बार फिर निशाना साधते हुए बशीर बद्र के अंदाज में “लोग टूट जाते हैं एक घर बनाने में, तुम तरस नहीं खाते बस्तियां जलाने में” अपनी भाषण की शुरुआत की.

उन्होंने कहा कि नोटबंदी एक आर्थिक डकैती है. मोदी जी सिर्फ 15 परिवारों के लिए काम कर रहे हैं. पीएम मोदी ने किसानों का कर्जा माफ नहीं किया. उल्टे किसानों की जमीन छीन ली.

मादी जी किसान विरोधी, गरीब विरोधी हैं. राहुल ने कहा कि 50 परिवारों के लिए रात दिन काम कर रही मोदी सरकार. ये वही लोग हैं जो उनके साथ जहाज में बैठकर विदेश जाते हैं.

अल्मोड़ा में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि नोटबंदी के कारण सौ से ज्यादा लोगों की मौत हुई है. मोदी ने 100 लोगों की याद में दो मिनट संसद में खड़ा नहीं होने दिया.

अल्मोड़ा से कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर देवभूमि के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उत्तराखंड के हक के सात हजार करोड़ नहीं दिये मादी सरकार ने. राहुल ने कहा कि मोदी ने मज़दूरों का मज़ाक़ उड़ाया, मनरेगा छीन लिया.