स्टिंग सीडी केस : CBI ने हरीश रावत को सम्मन भेजा, 26 दिसम्बर को पेश होना होगा

CBI ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत को स्टिंग सीडी केस में समन जारी कर 26 दिसंबर को पेश होने को कहा है। गौरतलब है कि एक प्राइवेट टीवी चैनल द्वारा किए गए स्टिंग में CM रावत किसी शख्स से बात करते दिख रहे हैं, जिसका चेहरा साफ नहीं है।

विडियो में CM घूस देकर विधायकों का समर्थन हासिल करने की बात कर रहे हैं। विडियो को कांग्रेस के 9 बागी नेताओं ने रिलीज किया था। बागी नेताओं ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ने घूस देकर उनका समर्थन हासिल करने की कोशिश की। रावत इस मामले में पहले भी 2 बार CBI के सामने पेश हो चुके हैं।

9 विधायकों द्वारा बगावत के बाद उत्तराखंड की कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई थी। अदालत के आदेश के बाद मुख्यमंत्री रावत को मार्च में विधानसभा के अंदर अपना बहुमत साबित करना था। इससे ठीक 2 दिन पहले कांग्रेस के बागियों ने एक न्यूज़ चैनल का विडियो स्टिंग जारी करके सनसनी मचा दी। विडियो में मुख्यमंत्री कथित तौर पर विधायकों की खरीद-फरोख्त के लिए रिश्वत की पेशकश पर बात कर रहे हैं।

जिस शख्स से वह बात कर रहे हैं उसका नाम उमेश शर्मा बताया जा रहा है। इसके बाद आनन-फानन में प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर हरीश रावत ने सफाई दी और स्टिंग को फर्जी बता दिया। उन्होंने कहा कि इसमें जो पत्रकार (उमेश शर्मा) हैं, उनका पेशा ही ब्लैकमेलिंग है।