राहुल गांधी ने नोटबंदी पर पीएम मोदी को घेरा, गंभीर आरोप भी लगाए

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को गुजरात के मेहसाणा में एक रैली के दौरान पीएम मोदी पर बड़ा हमला बोला. राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर सहारा समूह से पैसा लेने का आरोप लगाया है.

राहुल ने कहा कि सहारा के लोगों ने अपनी डायरी में लिखा है कि हमनें 6 महीने में 9 बार पीएम मोदी को पैसा दिया है. उन्होंने कहा कि आयकर विभाग ने 22 नवम्बर 2014 को सहारा कंपनी पर छापेमारी की थी.

आयकर विभाग के रिकॉर्ड के मुताबिक 30 अक्टूबर 2013 को मोदी को 2.5 करोड़ रुपये दिए गए. इसके बाद 12 नवंबर 2013 को 5 करोड़ दिया गया. 27 नवंबर को ढाई करोड़ और फिर 29 नवंबर को पांच करोड़ दिया गया.

इसके बाद 6 दिसंबर 2013 में पीएम मोदी को 5 करोड़ रुपये दिए गए. 19 दिसंबर को पांच करोड़ और दिया गया. इसके बाद 13 जनवरी 2014 में मोदी को पांच करोड़ दिया गया. 28 जनवरी को फिर पांच करोड़ दिया गया और फिर 22 फरवरी को पांच करोड़ और दिया गया. राहुल ने कहा कि ढाई साल से मोदी पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई. इस पर एक स्वतंत्र जांच होनी चाहिए.

नोटबंदी के मुद्दे पर राहुल ने सरकार पर वार करते हुए कहा कि ये फैसला काले धन और भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए नहीं लिया गया. बल्कि ये फैसला ईमानदार गरीबों के खिलाफ है. नोटबंदी का कदम 99 फीसदी लोगों के खिलाफ है. सरकार के इस कदम से निर्माण, इंजीनियरिंग, कपड़ा और पावरलूम उद्योग को काफी नुकसान पहुंचा है.

राहुल गांधी ने आगे कहा कि मोदी जी ने काले धन के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक नहीं किया बल्कि उन्होंने गरीबों पर फायर बॉम्बिंग की है. नोटबंदी का लक्ष्य गरीबों से पैसा खींचो और अमीरों को पैसा सींचो है. सभी कैश काला धन नहीं है और सारा काला धन कैश में नहीं है. आज किसान खेती के लिए बीज नहीं खरीद पा रहा है. पीएम मोदी ने किसानों से कैश छीन लिया है.

राहुल ने कहा कि जब कोई किसान या फिर आम आदमी बैंक से लिया लोन नहीं चुका पाता है तो उसे जेल में डाल दिया जाता है. लेकिन अगर ऐसा काम कोई अमीर आदमी करता है तो उसे डिफॉल्टर घोषित कर दिया जाता है.

उन्होंने कहा कि गुजरात में बीजेपी सरकार दलितों को मारती है. दलित राज्य में डरकर रहते हैं. पाटीदारों ने शांति से अपना आंदोलन किया. उन्होंने हिंसा किसी से नहीं की. लेकिन सरकार ने उनके महिलाओं और बच्चों को मारा.

रैली से पहले राहुल गांधी ने मेहसाणा में उमिया माता मंदिर में पूजा-अर्चना भी की. कांग्रेस इस रैली के माध्यम से राज्य में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान की शुरुआत कर रही है.