करुण नायर की बैटिंग ने सहवाग की याद दिला दी, लेकिन दोनों की तुलना नहीं : गांगुली

भारत के पूर्व दिग्गज कप्तान और बल्लेबाज सौरव गांगुली ने सोमवार को कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ चल रहे पांचवें टेस्ट मैच में तिहरा शतक लगाने वाले करुण नायर की बल्लेबाजी देखकर उन्हें पूर्व विस्फोटक बल्लेबाज विरेंद्र सहवाग का याद हो आई. गांगुली ने हालांकि नायर की तुलना सहवाग करने से इनकार कर दिया और कहा कि दोनों बल्लेबाजों के खेलने का दौर बिल्कुल अलग है.

उल्लेखनीय है कि नायर ने पांचवें टेस्ट मैच के चौथे दिन सोमवार को 303 रनों की नाबाद पारी खेली, जिसकी बदौलत भारत ने सात विकेट पर रिकॉर्ड 759 रन बनाकर अपनी पहली पारी घोषित कर दी और इंग्लैंड (477) पर पहली पारी के आधार पर 282 रनों की बढ़त हासिल कर ली.

गांगुली ने कोलकाता में पत्रकारों से कहा, ‘यह शानदार पारी थी. इसने मुझे सहवाग की याद दिला दी. लेकिन उनके बीच कोई तुलना नहीं हो सकती, क्योंकि सहवाग ने जब तिहरा शतक लगाया तब क्रिकेट अलग दौर में था और टीम भी अलग स्थिति में थी.’

उल्लेखनीय है कि इससे पहले टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक लगाने वाले सहवाग एकमात्र भारतीय बल्लेबाज थे. उन्होंने यह कारनामा दो बार किया और पाकिस्तान के खिलाफ उसी की धरती पर मुल्तान में लगाया गया उनका तिहरा शतक उनके करियर की सबसे शानदार पारियों में शुमार किया जाता है.

गांगुली ने कहा, ‘निश्चित तौर पर नायर टीम कोहली के सबसे लोकप्रिय खिलाड़ियों में शामिल होने वाला है.’ गांगुली से जब पूछा गया कि क्या नायर के तिहरे शतक ने लोकेश राहुल की 199 रनों की पारी को धूमिल कर दिया तो उन्होंने मुल्तान में सचिन तेंदुलकर की 194 रनों की पारी से इसकी तुलना की. तेंदुलकर ने सहवाग के तूफानी 309 रनों के बाद यह शतक लगाया था.

गांगुली ने कहा, ‘मुल्तान में सचिन की 194 रनों की पारी भी सहवाग के तिहरे शतक के आगे धूमिल रह गई थी. क्रिकेट में यह कोई नई बात नहीं है.’ गौरतलब है कि नायर भारत के ऐसे पहले बल्लेबाज भी बन गए हैं, जिन्होंने करियर के पहले शतक के तौर पर तिहरा शतक जड़ा है.